पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए राजनीतिक दल सक्रिय हो गए हैं. अब इस कतार में दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम जनता पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल सोमवार के दिन अमृतसर पहुंचे हैं. यहां पर पूर्व आईपीएस विजय प्रताप सिंह ने केजरीवाल की मौजूदगी में आम जनता पार्टी को ज्वाइन किया है.

कुछ समय पहले ही दिया इस्तीफा

बात करें अगर कुंवर विजय प्रताप सिंह की तो उनको पंजाब सरकार के भरोसेमंद अफसरों में से एक माना जाता है, लेकिन कोटकपूरा और बहीबल कला गोलीकांड की जांच के लिए बनी एसआईटी के प्रमुख विजय प्रताप सिंह कुछ समय पहले ही इस्तीफा दे चुके हैं.

पिछले चुनावों में आम जनता पार्टी बहुत मजबूत होकर सबके सामने खड़ी हुई थी ऐसे में इस बार भी आम आदमी पार्टी को पंजाब से बहुत सी उम्मीदें हैं.

मुख्यमंत्री पद के चेहरे के लिए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम लोग पार्टी में इसपर मंथन कर रहे हैं, लेकिन जो भी होगा वह एक सिख चेहरा ही होगा. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमारा उम्मीदवार वो होगा, जिसपर हर कोई गर्व करेगा.

कांग्रेस नेता और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वह एक वरिष्ठ कांग्रेसी नेता है. उनका हम बहुत सम्मान करते हैं. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पूर्व आईपीएस विजय कुमार कोई नेता नहीं है ना ही मैं कोई नेता हूं . वह ईमानदारी से काम करने के लिए हमारे साथ खड़े हुए हैं.

कैप्टन सरकार को अपना निशाना बनाते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पंजाब की सरकार यहां पर कोई बदलाव नहीं ला पाई है. हमारी पार्टी यहां पर हर तरीके का बदलाव करके दिखाएगी. किसी के साथ गठबंधन पर केजरीवाल ने जवाब दिया कि हम अगर ऐसे निष्कर्ष पर निकलेंगे तो मीडिया को जरूर बताएंगे..

बताते चलें कि जब सोमवार को केजरीवाल अमृतसर पहुंचे अकाली दल के कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत काले झंडे दिखाकर और नारेबाजी कर के किया. इस बार अकाली दल बसपा के साथ चुनाव लड़ रहा है. अगर बात करें कांग्रेस की, तो वह अभी अपनी पार्टी में ही जंग कर रही है.

इसे भी पढ़ें-Salman Khan को लेकर Aishwarya Rai ने कह डाली ऐसी बात, भौचक्के रह गये लोग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here