KEJRIVAL

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने हल्द्वानी दौरे के दौरान उत्तराखंड की जनता से एक चुनावी वादा कर दिया है. असल में आम आदमी पार्टी ने उत्तराखंड के लोगों के लिए जो रोजगार के वादे किये हैं उसके अनुसार अब हर घर में रोजगार को दिया जाएगा. जैसे ही सरकार बनेगा उसके बाद 6 महीने में 1 लाख सरकारी नौकरियां सभी को दी जाएंगी. तो वहीं ऐसा ना होने तक की समयावधि तक हर महीने 5000 रुपये महीना भत्ता दिया जाएगा.

ये है AAP का चुनावी लॉलीपॉप

अपने इन वादो में केजरीवाल ने आरक्षण के बारे में भी बात की हैं. उन्होंने कहा कि प्रदेश की नौकरियों में उत्तराखंड़ियों को 80% आरक्षण मिलने वाला है. विरोधी राजनीतिक दलों पर निशाना साध कर केजरीवाल ने कहा कि, ‘उत्तराखंड को 21 साल हो गए. दो दशक में यहां की सत्ता पर राज करने वाली पार्टियों ने प्रदेश की दुर्दशा करने में कसर नहीं छोड़ी. पहाड़, जल, जंगल और जमीन सब लूट लिया. हम 21 सालों की बदहाली को 21 महीनों में ठीक करने की तैयारी में हैं.’

फ्री बिजली

स्पष्ट है कि आप पार्टी की उत्तराखंड इकाई इस पहाड़ी प्रदेश के मतदाताओं को फ्री बिजली तो पहले ही ऑफर कर चुकी है. पहले ही फ्री बिजली का वादा केजरीवाल और उनकी पार्टी के नेता उत्तराखंड के लिए कर चुके हैं. इस वादे को आज भी दोहराया गया. केजरीवाल ने बोला कि ‘ दिल्ली की तरह उत्तराखंड में 24 घंटे बिजली देंगे. सरकार बनने पर हर घर को 300 यूनिट बिजली मुफ्त देंगे.’

देंगे सभी कोरोजगार

सभी को रोजगार मुहैया कराने के लिए केजरीवाल ने कुछ ऐसे ऐलान करते हुए उत्तराखंडियों को रोजगार देने का वादा भी किया. इसमें उन्होंने कहा कि, ‘एक लाख नई सरकारी नौकरियां (Jobs) देने के लिये रोडमैप तैयार होगा. पार्टी की सरकार बनने पर हर बेरोजगार को काम मिलेगा. जब तक ऐसा नहीं होता लोगों को तब तक 5,000 रुपये महीना भत्ता दिया जाएगा. सरकारी और प्राइवेट सेक्टर्स की नौकरियों में 80% कोटा उत्तराखण्ड के लोगों के लिए रिजर्व रखा जाएगा. रोजगार और पलायन मामलों का मंत्रालय बनाया जाएगा. इसका काम होगा रोजगार पैदा करना, जो लोग पलायन कर रहे हैं उन्हें रोकने की दिशा में काम होगा. वहीं जो लोग पलायन कर चुके हैं उनको वापस लाने के लिए मुकम्मल तैयारी की जाएगी.’

इसे भी पढे़ं-ग्राहकों की इस लापरवाही के कारण उड़ जाएगा बैंक में सहेजा सारा पैसा, SBI ने किया अलर्ट