Thursday, February 2, 2023

योगी सरकार का एक और बड़ा फैसला, वीर जवानों के लिए शानदार काम

Must read

- Advertisement -

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि सशस्त्र सेना झंडा दिवस निधि में जमा होने वाली राशि का तीन गुना योगदान प्रदेश सरकार देने जा रही है। पूर्व सैनिकों को फिर से आबाद करने के लिए बैंकिग लोन पर 4 प्रतिशत ब्याज को सरकार वहन करेंगी. बुधवार को सीएम योगी के सरकारी आवास पर आयोजित ‘अमर शहीद सम्मान कार्यक्रम में बोल रहे थे. इस अवसर पर उन्होनें पुलवामा हमले में मारे गए शहीदों के परिवारों समेत सेना, अर्ध सैन्यबल और पुलिस के कुल 96 शहीदों के आश्रित परिवारों को नियुक्ति पत्र बांटे गए।

- Advertisement -

योगी आदित्तयानाथ ने जानकारी साझा करते हुए बताया कि देश के लिए शहीद होने वालों के परिवारों का सम्मान करना हम सबका साझा दायित्व है। योगी सरकार ने 1 अप्रैल 2017 या उसके बाद शहीद होने वाले सेना और अर्ध सैन्य बलों के जवानों के एक आश्रितों को उसकी योग्यतानुसार सरकारी नौकरी देने का फैसला लिया हैं।

शहीद के परिवार वालों को 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी. उनकी याद में स्मारकों का निर्माण कराया जाएगा. सीएम ने कहा कि एक अप्रैल 2017 से अभी तक सेना के 15 जवान शहीद हो गए थे. इनमें से 6 जवानों के आश्रितों को इस कार्यक्रम में नियुक्ति पत्र दिए जा रहे हैं। बचे 9 आश्रित परिवारों में से तीन ने शासकीय सेवा में अनिच्छा जाहिर की है। 

जबकि, तीन आश्रित परिवारों ने अभी तक आवेदन नहीं किया है। एक आश्रित अभी नाबालिग है और एक आश्रित पहले से सरकारी सेवा में हैं। वहीं एक अन्य शहीद की आश्रित को असाधारण पारिवारिक पेंशन स्वीकृत की गई है। सीएम ने कहा कि जिन आश्रित परिवारों के अभी आवेदन नहीं आए हैं, उनके आवेदन शीघ्र लिए जाने केडीएम को निर्देश दिए गए हैं। 

इसी तरह से अर्ध सैन्य बलों के इस अवधि में 24 जवान शहीद हुए हैं, जिनमें से 19 आश्रितों को नियुक्ति पत्र दिए जा रहे हैं। बाकी 5 मामलों में दो आश्रित अभी नाबालिग हैं, जबकि एक शहीद के भाई ने नौकरी मांगी है। उसके लिए शासनादेश में शिथिलता करने की कार्यवाही चल रही है। 

सीएम ने कहा कि उत्तर प्रदेश पुलिस के 61 जवानों के आश्रितों को नियुक्ति पत्र इस कार्यक्रम में दिए जा रहे हैं। इनमें से 44 आरक्षी और 17 उप निरीक्षक हैं। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि शहीद परिवारों के पुनर्वास, बच्चों की पढ़ाई और उनकी हरसंभव मदद को लेकर सरकार संवेदनशील है। पूर्व में विभिन्न मेडल व चक्र पाने वाले जवानों के लिए एकमुश्त सहायता राशि और वार्षिक धनराशि में भी उल्लेखनीय वृद्धि की गई है। ये भी पढ़ें: PM मोदी के जनरल ने दी चुनौती ‘सबूत मांगने वालों को अगली बार विमान में बांधकर ले जाएं’

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article