यूपी का वीर सपूत: आतंकियों के मास्टरमाइंड का खात्मा किया और खुद भी शहीद हो गया

0
337
gazi

पुलवामा में आतंकी हमले के बाद सुरक्षाबलों ने बहुत बड़ी सफलता हासिल की है। दरअसल सीआरपीएफ के काफिले पर हमले का मास्टरमाइंड आतंकी गाजी रशीद उर्फ कामरान को सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में मार गिराया। हालांकि सुरक्षाबलों ने इसकी आधारिक पुष्टि नही की है। लेकिन जिन जवानों ने ये कारनामा कर दिखाया है वो मेरठ के जवान अजय कुमार भी शामिल थे जो दुश्मनों से मुठभेड़ में शहीद हो गए।

जानकारी के मुताबिक, इस मुठभेड़ में सेना ने दो आंतकियों को मार गिराया। जिनकी अब पहचान की जा रही है। वही सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ के दौरान आतंकी एक इमारत में छिपे हुए थे। जिसे भी सेना ने उड़ा दिया है। जिसके बाद अब सेना ने पूरे इलाके में घेरबंदी कर दी है।

वही इस मुठभेंड़ में सेना के चार जवान भी शहीद हुए है। जिसमें मोदीनगर के जानी ब्लॉक के टीकरी गांव के निवासी अजय कुमार शहीद हुए है। बेटे की शहादत की सूचना मिलते ही जवान अजय के घर मातम छा गया। बता दे कि शहीद जवान अजय 7 अप्रैल 2011 को ’20 ग्रेनेडियर्स’ में नियुक्त हुए थे। फिलहाल वह 55 राष्ट्रीय राइफल्स में तैनात थे। परिजनों का कहना है कि अजय 31 जनवरी को एक महीने की छुट्टी के बाद ड्यूटी पर लौटे थ। तीन दिन वही पुलवामा हमले के बाद से ही परिवारवाले परेशान है। जिसके चलते घरवालों ने हमले के बाद अजय से बात की थी।

गौरतलब है कि अजय के पिता वीरपाल सिंह सेना से रिटायर्ड हैं। वहीं अजय अपने परिवार के इकलौते सहारे थे। दरअसल, उनके भाई की सात महीने पहले ही बीमारी के कारण मौत हो गई थी। उनकी एक बहन है लेकिन उसकी शादी हो चुकी है। अजय की शादी चार साल पहले हुई थी। उनका एक ढाई साल का बेटा है। जिसका नाम आरव है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here