यूपी पुलिस की शर्मनाक करतूत, सीआरपीएफ जवान का बना दिया अपराधी !

0
304

पुलवामा हमले में शहीद हुए देश के 40 वीर जवानों की शहादत की आग अभी ठंडी हुई भी नहीं थी। कन्नौज जिले में पुलिस ने गजब कारनामा सामने आया यहां पुलिस ने दिल्ली में ड्यूटी कर रहे सीआरपीएफ के जवान को कन्नौज क्षेत्र की छिबरामऊ कोतवाली क्षेत्र में एक फर्जी मुकदमा दर्ज कर लिया है। फर्जी मुकदमें में जवान को अपराधी बनाया। जबकि सीआरपीएफ जवान की बेटी को उसके ससुराल वालों ने दहेज की लालच में घर से निकाल दिया था। जिसके चलते ससुरालियों से जवान लगातार बेटी को घर ले जाने की गुजारिश कर रहा था।

जिसके बाद ससुराल वालों ने न जाने किस तरह उल्टा सीआरपीएफ जवान और उसकी बेटी सहित कुल 9 लोगों पर मुकदमा दर्ज करा दिया। फर्जी मुकदमा दर्ज होने के बाद अब पीड़ित जवान बृजभान सिंह न्याय की गुहार लगा रहा है कि मैं तो ड्यूटी कर रहा था मेरे खिलाफ यह मुकदमा कैसे हो गया जबकि मेरी बेटी ही उल्टा पीड़िता है उल्टा उसी को ही अपराधी बना डाला।

बताया जा रहा है कि दिल्ली निवासी ब्रिजभान सिंह सीआरपीएफ में बतौर कॉन्स्टेबल के पद पर तैनात है ब्रिजभान सिंह ने साल 2017 अप्रैल में अपनी बेटी की शादी कन्नौज जिले के छिबरामऊ क्षेत्र निवासी देवेंद्र नाम के युवक से बड़े ही धूमधाम से की थी। बेटी को शादी में काफी दान दहेज भी दिया था। करीब 1 साल बाद बेटी ने एक बेटे को जन्म दिया। पीड़ित महिला ने आरोप लगाया कि मेरे ससुराल वाले आए दिन और दहेज की मांग करते थे और मेरे साथ मारपीट भी किया करते थे मैंने यह बात अपने घरवालों को भी बताई थी घरवालों ने समझौता करवाने की बात कही फिर अभी कुछ दिनों पहले मेरे ससुराल वालों ने मुझे बुरी तरह से मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया।

जिसके बाद मैंने कई बार घर के अंदर आने की कोशिश की लेकिन मुझे घर के अंदर नहीं घुसने दिया गया वही जब मामले की जानकारी पीड़ित महिला ने अपने पिता को दी तो सीआरपीएफ जवान ब्रिजभान सिंह ने 19 तारीख को छुट्टी लेकर वह यहां आया और ससुरालियों से मामले में समझौता करने की बात कही लेकिन तब तक ससुरालियों ने उल्टा ब्रिजभान सिंह पर मुकदमा दर्ज करा दिया था वहीं मामले पर बृजभान सिंह का कहना है कि एक तो मेरी बेटी को ससुराल वाले दहेज के लिए परेशान कर रहे थे।

मैं तो दिल्ली में अपनी ड्यूटी दे रहा था और पुलिस ने मुझे यहां पर फर्जी मुकदमे में फंसा दिया है अब मैं देश के लिए कैसे लडूंगा और यह मुकदमा भी मैं कैसे लडूंगा मेरी सुनने वाला कोई नहीं मुझे पूरी तरह से गलत मामले में फंसाया जा रहा है और मेरी बेटी पर अन्याय हो रहा है वहीं मामले पर पुलिस ने कुछ सभासदों का भी नाम मुकदमे में लिख दिया है जिसके चलते सभासदों में भी आक्रोश है। ये भी पढ़ें: अभी कुछ हुआ नहीं और पाकिस्तान बौखलाने लगा, अस्पतालों को दिए तैयार रहने के आदेश

https://youtu.be/fH16FbR0QKw

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here