उत्तर प्रदेश में दो जुड़वा भाइयों की हत्या, तनाव का माहौल!

0
289
उत्तर प्रदेश में दो जुड़वा भाइयों की हत्या

12 फरवरी को चित्रकूट जिले के सीमावर्ती क्षेत्र से तेल उद्यमी के जुड़वा बेटों के शव हैं। बता दें के दोनो बच्चों के शव बांदा की यमुना नदीं से बरामद किए गए था। अपराधियों ने बच्चों को हत्या के बाद दोनो के शव एक घाट पर फेंक दिया था। इस घटना के बाद से पूरे जिले में तनाव का माहौल पैदा हो गया है। लोगों ने जगह-जगह तोड़फोड़ शुरू कर दी जिससे पुलिस ने लाठी चार्ज किया। यहां तक की आक्रोशित लोगों पर काबू पाने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले तक छोड़ने पड़े।

जिसके चलते पुलिस लाठी चार्ज करने पर मजबूर हो गयी। भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले भी छोड़े। जिले में जगह-जगह पुतले फूंके जा रहे हैं। जानकारी के अनुसार इस घटना का मास्टरमाइंड ट्रस्ट के पुरोहित का बेटा पदम कांत शुक्ला निकला। पुलिस ने पदम कांत शुक्ला व उनके दो साथियों को गिरफ्तार कर लिया है।

मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने एमपी के चित्रकूट से अपहृत जुड़वा बच्चों को यूपी में मृत पाए जानें पर ट्वीट कर कहा कि “मैं दोनों बच्चों को श्रद्धांजलि देता हूं। यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना थी। हमें उम्मीद थी कि सरकार और प्रशंसा इसे गंभीरता से लेगी और बच्चों को बचाएगी। इस घटना ने मुझे अंदर तक हिला कर रख दिया है”।

हालांकि उत्तर प्रदेश और मध्यप्रदेश की पुलिस बच्चों की तलाश कर रही थी। लेकिन पुलिस को जानकारी न मिलके बाद मामले को STF को सौंप दिया गया। लेकिन stf के हाथ भी खाली नजर आए। वही कहा ये भी जा रहा है कि बच्चों को छुड़ाने के लिए 25 लाख रुपए फिरौती भी दी गई थी लेकिन फिर भी बच्चों की जान नहीं बची। पुलिस इस मामले में कई लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।

वही घटना की जानकारी मिलते ही इलाके में तनाव फैल गया। कानून-व्यवस्था को बनाए रखने के लिए भारी पुलिस बल मौके पर मौजूद है। बांदा जिले में दोनों बच्चों के शव का पोस्टमार्टम किया जा रहा है। पुलिस ने माइक से लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। ज्ञात हो कि 12 फरवरी को कट्टे को नोक पर दिन दहाड़े शिवांग और देवांग नाम के जुड़वा भाइयों का अपहरण हुआ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here