चुनाव हारने का दोहरा शतक बनाएगा ये शख्स, 200वीं बार भरा नामांकन!

0
230

क्रिकेट की दुनिया में तो आपने कई दफा देखा होगा जब मैदान में क्रिकेटर शतक या दोहरा शतक जमाते है। उस वक्त फैंस जश्न में डूब जाते है। लेकिन क्या कभी आपने सुना है कि कोई क्रिकेट के मैदान से बाहर भी शतक या दौहरा शतक जमा सकता है। अगर नहीं तो हम आपको बताते है एक ऐसे शख्स के बारे में जिनके नाम पर शतक दर्ज तो है लेकिन किसी जीत का नहीं बल्कि हारने का। जी हां तमिलनाडू के सलेम में रहने वाले पद्मराजन का नाम देश के सबसे असफल उम्मीदवार के तौर पर दर्ज है।

जब कोई चुनाव मैदान में उतरता है तो उसके जहन में चुनाव जीतने का ख्याल रहता है। लेकिन पद्मराजन के इरादे कुछ अलग ही हैं। दरअसल इलेक्शन किंग नाम से मशहूर पद्मराजन अपने नाम गिनेस रेकॉर्ड दर्ज कराना चाहते हैं और वह भी सबसे ज्यादा चुनाव हारने वाले प्रत्याशी के तौर पर। वह अब तक 199 बार चुनाव लड़कर हार चुके है।

हर चुनाव में पद्मराजन सबसे पहले अपना नामांकन दाखिल करते हैं। आगामी चुनावों में भी धर्मपुरी सीट से उन्होंने अपना 200वां नामांकन दाखिल किया है। वह मंगलवार को अपने बेटे श्रीजेश पद्मराजन के साथ करीब 9 बजे सुबह कलेक्टर के चेंबर में पहुंचे और सबसे पहले आवेदन दिया। बाद में उन्होंने जिला कलेक्टर कम जिला निर्वाचन अधिकारी एस मलारविझी को अपना आवेदन सौंपा।

मीडिया से बात करते हुए उन्होंने बताया कि वह 200वीं बार नामांकन दाखिल कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह से वह यह संदेश देना चाहते हैं कि कोई भी किसी भी चुनाव में लड़ सकता है। पद्मराजन पेशे से होम्योपैथिक डॉक्टर थे और बाद में वह बिजनस करने लगे। उन्होंने अब तक अटल बिहारी वाजपेयी, मनमोहन सिंह, प्रणव मुखर्जी, एपीजे अब्दुल कलाम, जयललिता, करुणानिधी के खिलाफ चुनाव लड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here