भारत की इस जेल में सिर्फ एक कैदी रहता है, हर दिन रेस्टोरेंट से जाता है स्वादिष्ट खाना

0
537
diu_fort_jail_4277179_835x547-m

जेल शब्द सुनते ही लोगों की नींद उड़ जाती है। यहां पर लोगों को जेल के नाम से पुलिस से डर नहीं लगता होगा। बल्कि भारत की जेल में तो लोग वहा के माहौल और रहन- सहन देखकर ही डर जाते है। जहां पर खाने के नाम पर सिर्फ पतली दाल और रोटी मिलती है। और सोने के लिए काल कोठरी। लेकिन क्या आपने भारत की एक ऐसी जेल के बारे में सुना है। जहां पर सिर्फ एक कैदी है और यहां पर इस कैदी के लिए खाना रेस्टोरेंट से लाया जाता है।

आपको बात दे कि भारत की ये जेल केंद्रशासित प्रदेश दीव में है। जो एक राजमहल का मना हुआ है। इसका नाम दीव फोर्ट जेल है। जिसकी खासियत ये है कि ये जेल समुद्र की बीचो- बीच बनी हुई है अगर दूर से इस जेल को कोई देखें, तो ये एक किलो की तरह दिखता है। जिसमें सिर्फ एक ही कैदी कैद है। जिसका नाम दीपक कांजी है। दीपक कांजी की उम्र 30 साल है और उसके ऊपर अपनी ही पत्नी की हत्या का आरोप है। खबरों के मुताबिक दीपक ने अपनी पत्नी को जहर देकर मार दिया था। हैरानी की बात तो ये कि जेल दीपक के लिए खाना भी रेस्टोरेंट से आता है। एक ही कैदी होने की वजह से जेल प्रशासन ऐसा करता है और पास ही के एक रेस्टोरेंट से दीपक के लिए खाना मंगवाया जाता है। वहीं भारत की किसी अन्य जेल में खाना जेल के अंदर ही बनता है

दिलचस्प बात तो ये है कि ये जेल 472 साल पुरानी है। ये टूरिस्टों के लिए काफी आकर्षित करती है। जिसके चलते इस जेल में दीपक को ज्यादा नहीं रखा जाएगा। दीपक अभी यहा पर ट्रायल पर है। जैसे ही ये ख़त्म होता है, दीपक को भी अन्य कैदियों की तरह ही दूसरी जेल में शिफ्ट कर दिया जाएगा। इस जेल में दीपक की सुरक्षा में हर वक्त 5 सिपाही और एक जेलर तैनात रहते हैं। साल 2013 में इस जेल को बंद करने की घोषणा कर दी गयी थी साथ ही कई सालों से इस जेल को टूरिस्ट डेस्टिनेशन बनाने की दिशा में भी काम चल रहा है। ये भी पढ़ें:- जेब में पैसे नहीं थे तो 100 नंबर डायल किया..मंगवा ली पुलिस की गाड़ी

fortim-do-mar-panikotha

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here