खुदाई के दौरान निकली भगवान शिव की मूर्ति…दावा किया जा रहा है कि 16वीं शताब्दी की है

0
1799

कर्नाटक के मैसूर में झील की खुदाई के दौरान भगवान शिव के बैल की मुर्तियां मिली है। भारतीय पुरातत्तव विभाग के अधिकारियों का दावा है कि ये मूर्तियां विजयनगर काल की और 16वीं या फिर 17 वीं शताब्दी की हो सकती है। मैसूर से करीब 20 किलोमीटर दूर सूख चुकी झील की खुदाई के दौरान ये मूर्तियां मिली हैें। अभी ये ख़बर सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है। ये भी पढ़े :सावन के महीने में भगवान शिव भक्तों की पूरी करेंगे हर मनोकामना, बस करने होंगे ये काम

बताया ज रहा है कि झील की खुदाई से लेकर मूर्तियों के निकालने तक का काम स्थानीय निवासियों ने किया। सोशल मीडिया की ख़बर के मुताबिक, आरासिनाकेरे के बुजुर्ग इस झील में नदी की प्रतिमाएं होनी की बात करते थे। बताया जा रहा है कि जब कभी-भी झील में पानी कम हुआ करता था, तब प्रतिमाओं का सिर पानी में नजर आता था। वहीं, इस बार झील के सूख जाने के कारण स्थानीय लोगों ने झील की खुदाई करने का मन बना ही लिया। वहीं, मौके पर अब पुरातत्तव विभाग के अधिकारी भी पुहंच चुके हैं। ये भी पढ़े :कब है महाशिवरात्रि का शुभ मुहूर्त?, क्या है पूजा विधि? शिवजी को क्या चढ़ाएं? सब कुछ जानिए

https://www.facebook.com/rajesh.kharwar.5/posts/2070232759747205

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here