ये है मिसाल…दूल्हे ने 11 लाख की दहेज ठुकराई…कहा ‘बस संस्कारी लड़की दे दो’

0
558
ATTACHMENT DETAILS Capture-1-1.jpg 10th March 2019 74 KB 972 by 492 pixels Edit Image Delete Permanently URL https://upvartanews.com/wp-content/uploads/2019/03/Capture-1-1.jpg

जिस समाज में अक्सर दहेज के लिए लड़कियों की बलि चढ़ा दी जाती है। कई शादियां होते होते टूट जाती है। जहां अच्छी नौकरी के मिलते ही युवकों का परिवार दहेज में मोटी रकम की मांग करता है। वही पोकरण के एक शख्स ने अपनी शादी में मिसाल पेश की। पोकरण के राजपूत दूल्हे ने दहेज के टीके में मिल रहे 11 लाख 25 हजार रुपए को लेने से इंकार कर दिया। इतना ही नहीं उसने ससुराल पक्ष की तरफ से दिए जाने वाले दहेज के बाकी सामान को भी लेने से मना कर दिया।

नखतसिंह भाटी ने अपनी शादी के दौरान ससुराल पक्ष की तरफ से मिल रहे दहेज को मनाकर समाज के सामने मिसाल पेश की है। नखतसिंह ने बताया कि सिर्फ वो ही नहीं उसका पूरा परिवार दहेज प्रथा के खिलाफ है। उन्हें अपने परिवार के लिए दहेज लाने वाली नहीं बल्कि परिवार चलाने वाली पढ़ी लिखी और संस्कारी लड़की चाहिए, जो पूरे परिवार को आपस में बांधकर रख सके।

जोधनगर में रहने वाले राजेंद्र सिंह  बेटे नखतसिंह भाटी की शादी जोधपुर के काकोणी गांव निवासी आनंद सिंह चंपावत की बेटी के साथ तय हुई। शुक्रवार को जैसे ही नखतसिंह बारात लेकर दुल्हन के घर पहुंचे तो ससुराल पक्ष ने उन्हें टीके में शगुन के तौर पर दहेज में 11 लाख 25 हजार रुपए से भरा थाल देना चाहा।download 1 जिसे देखकर नखतसिंह और उनके पिता ने यह कहकर लेने से इंकार कर दिया कि उनका परिवार दहेज के खिलाफ है। ये भी पढ़े लोकसभा चुनाव के पहले कोलकाता में एक हजार किलो विस्फोटक बरामद, दो गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here