अभिनंदन की शौर्यगाथा: पाकिस्तान के F-16 पर ऐसे भारी पड़ा MIG-21

0
402

किसी भी जवान को जंग लड़ने और जीतने के लिए अच्छे हथियारों की जरूरत होती है, लेकिन इस बात को गलत साबित किया भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन ने. दरअसल, जब पाकिस्तान के F-16 लड़ाकू विमान ने भारतीय सीमा घुसने की हिमाकत की, तब अभिनंदन ने मिग-21 लड़ाकू विमान से उसे मार गिराया. हालांकि, F-16 मिग-21 से काफी ज्यादा आधुनिक और ताकतवर है. चलिए आपको इन दोनों लड़ाकू विमानों की खासियत बताते हैं.

ये है मिग-21 की खासियत
मिग-21 बाइसन की खासियत की बात करें तो ये 2230 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से उड़ता है. इसकी लंबाई 14.7 मीटर और वजन 5846 किलोग्राम है. साल 2006 में 110 मिग-21 लड़ाकू विमानों को अपग्रेड किया गया था. विमान में आर-73 आर्चर शॉर्ट रेंज और आर-77 मीडियम रेंज एंटी-एयरक्राफ्ट मिसाइलों से लैस किया गया. मल्टी मोड रडार, बेहतर संचार प्रणाली, हेलमेट-माउंटेज साइट को भी अपग्रेड किया गया. इस विमान को रूस ने बनाया जो कि साल 1972 में पहली बार सेवा में आया.

मिग-21 को अपग्रेड करने के बाद इसमें बाईं और कॉकपिट से गोलियां बरसाने की व्यवस्था की गई, जिसके बाद ये 420 राउंड एक साथ ले जा सकता है. साथ ही इसमें कलस्टर बम और केमिकल बम ले जाने की व्यवस्था की गई है.

F-16 की खासियत भी जान लीजिए
F-16 लड़ाकू विमान को अमेरिका ने बनाया है, जो कि चौथी जनरेशन का आधुनिक लड़ाकू विमान है. इस विमान की खासियत है कि ये हवा से हवा, हवा से सतह, हवा से किसी भी जहाज पर मिसाइल दाग सकता है. साथ ही इसमें बम भी लगाए गए हैं. इसमें उम्दा जीपीएस नैविगेशन भी लगा हुआ है. ये एक सुरसोनिक मल्टीरोल लड़ाकू विमान है. ये भी पढ़ेंलोकसभा चुनाव: वाराणसी में पीएम मोदी को टक्कर दे सकते हैं शत्रुघ्न सिन्हा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here