बस्तीः योगी की नाक के नीचे हो रही धांधली, भर्ती के नाम पर मेडिकल कॉलेज में बड़ा घोटाला

0
218
Loading...

यूपी। उत्तर प्रदेश के मेडिकल कॉलेज में 1 सितबंर से कर्मचारियों के पदों की भर्ती की जानी थी। और ये भर्तियां पूरे प्रोसीजर के साथ होनी थी। इसके लिए पहला चरण ऑनलाइन फार्म भरना था। जानकारी के मुताबिक, मेडिकल कॉलेज में कर्मचारियों की भर्ती का जिम्मा आउटसोर्सिंग को दिया गया था। कॉलेज में कर्मचारियों की तकरीबन 178 सीटें निकाली गई थी। जिनमें से 127 सीटें पहले से ही सिफारिश लगाकर बुक कर दी गई।

बता दें कि मेडिकल कॉलेज में चल रही इस धांधली और खुले आम गुंदागर्दी की जा रही है। इसको कोई अन्य पार्टी के नेता नहीं बल्कि बीजेपी के नेता कर रहे हैं। ये धांधली यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाक के नीचे हो रही है। दरअसल, यूपी के बस्ती इलाके में मेडिकल कॉलेज के कर्मचारियों की पदों की भर्ती हो रही है और इन भर्तियों में बीजेपी के नेता अपने जानने वालों के नाम खुले आम लेटर पैड हेड के ऊपर लिख कर दे रहे हैं। लेकिन जब इस मुद्दे को सोशल मीडिया के जरिए दिखाया भी जा रहा है, लेकिन सवाल ये खड़ा उठता है कि आखिर अब तक यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस पर तुरंत कार्यवाही क्यों नहीं कर रहे हैं। योगी जी अपने अधिकतर भाषणों में देश को ‘भष्ट्राचार मुक्त’ कराने का नारा देते हैं। लेकिन अब उस नारे को बीजेपी के चंद नेता तार-तार करने में लगे हैं। ऐसे नेताओं पर खुद बीजेपी तुरंत कार्यवाही क्यों नहीं करती।

बस्ती के नेता कर रहे हैें मेडिकल कॉलेज में पदों की भर्ती में धांधली

यूपी के जिन बीजेपी नेताओं ने मेडिकल कॉलेज में खुले आम धांधाली की हैं। वे बस्ती इलाके के विधायक, जिलाध्यक्ष हैं। जिनमें सबसे पहला नाम सांसद हरीश द्विवेदी का आता हैं। हरिश द्विवेदी पर ऐसा इलजाम पहली बार नहीं लगा है बल्कि वो कई मामलों में पहले भी फंस चुके हैं।

वेतन ना बढ़ने पर करेगें चोरी

वहीं सांसद हरीश द्विवेदी ने मीडिया को एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि, ‘राजनीतिक व्यक्तियों का वेतन नहीं बढ़ाया जाएगा तो वे चोरी करेगें ही। राजनीतिक व्यक्तियों की चोरी रोकनी है तो उनका वेतन बढ़ाया जाना चाहिए।‘ अब हरीश द्विवेदी के ऐसे बयानों से तो लगता है कि वो अपनी इन हरकतों से बाज नहीं आएगें । जब ऐसे नेता खुद खुले आम एक कार्यक्रम के दौरान चोरी करने की बात करते हैं, वो नेता देश और अपने राज्य के लिए निष्पक्ष होकर कैसे कार्य करें सकते हैं ?

ये नेता हैं शामिल बस्ती के मेडिकल कॉलेज की धांधली में

गौर करने वाली बात तो यह है बीजेपी के सांसद हरीश द्विवेदी ही नहीं बल्कि विधायक दयाराम चौधरी, जिलाध्यक्ष पवन कसौधन, विधायक अजय सिंह आदि नेता शामिल हैं। इन्होंने दर्जनों के भाव में अपने परिजनों के नाम लेटर पैड हैड पर मेडिकल कॉलेज में पदों की सिफारिश के लिए लिखें हैं।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here