लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी के लिए अच्छी खबर, यूपी में खत्म हो गई ये टेंशन

0
530

जहां कुछ समय तक बीजेपी के सहयोगी दल अपना दल (एस) और सुभासपा दल मोदी सरकार से नाखुश नजर आ रहे थे. वहीं अब इन दोनों दलों को लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी ने साथ लिया है. जहां सुभासपा को उत्तर प्रदेश बीज विकास निगम और उत्तर प्रदेश लघु उद्योग निगम का अध्य पद देकर खुश किया, तो वहीं अपना दल (एस) को उत्तर प्रदेश आवास एवं विकास परिषद का उपाध्यक्ष और उत्तर प्रदेश राज्य बीज प्रमाणीकरण संस्था का अध्यक्ष पद देकर उन्हें भी साथ कर लिया है.

ऐसे में अब केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल और पार्टी अध्यक्ष आशीष पटेल अब 27 फरवरी को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात करेंगे. जो कि तय हो गई है. यही नहीं 25 फरवरी को 80 सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणआ करने वाले सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर भी अब बैकफुट पर नजर आएंगे. इस फैसले को इस तौर पर भी देखा जा सकता है कि अपना दल (एस) और सुभासपा को लोकसभा की सीटों में ज्यादा हिस्सेदारी नहीं मिलने जा रही है. वहीं माना जा रहा है कि अपना दल (एस) को ज्यादा से ज्यादा 3 और सुभासपा को 1 या फिर 2 सीटों पर संतुष्ट किया जा सकता है.

पहले ही पटेल बिरादरी में प्रभाव रखने वाले अपना दल (एस) को ये बता दिया था कि अनुप्रिया और आशीष की सभी बातें नहीं मानी जाएगी. वहीं बीजेपी ने लोकसभा चुनाव की अधिसूचना से ठीक पहले बड़ा दांव खेलते हुए ये फैसला लिया है. ये भी पढ़ें: समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट केस में फैसला 14 मार्च का टला, ये हैं आरोपी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here