सिर्फ मुलायम के पास है ऐसी ताकत, उलझन में पड़ गए अखिलेश और माया

0
287

लोकसभा चुनाव में इस बार सपा और बसपा गठबंधन के साथ बीजेपी का सामना करने के लिए उतरे है। जिसके चलते दोनो ही पार्टी ने गठबंधन की सीटों का बंटवारा कर उम्मीदवारों का ऐलान भी करना शुरू कर दिया है। लेकिन यहां पर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव अखिलेश यादव के लिए बहुत बड़ी परेशानी लेकर आए है। जो अब अखिलेश के साथ मायावती की परेशानी भी बढ़ाते हुए नजर आ रहे है।

सूत्रों की मुताबिक मुलायम सिंह जौनपुर लोकसभा सीट से अपने करीबी पूर्व सांसद पारसनाथ यादव को चुनाव लड़ाना चाहते है। जिसके लिए मुलायम सिंह ने अखिलेश के पास पारसनाथ का नाम भी भेज दिया है। लेकिन परेशानी ये है कि गठबंधन के ऐलान के साथ जौनपुर सीट बसपा के खाते में गई है और बलिया सीट सपा के खाते में गई थी। जिससे अब अखिलेश परेशानी में पड़ गए है।

हालांकि खबरों की मानें तो अखिलेश यादव ने जौनपुर सीट के लिए बसपा अध्यक्ष मायावती से बात भी की। जिसपर मायावती ने कड़क रूख अपनाते हुए अखिलेश से बदले में बलिया की सीट मांगी। लेकिन अखिलेश बलिया की सीट नहीं छोड़ना चाहते।जबकि, अखिलेश बलिया सीट नहीं छोड़ना चाहते। वो इसके बदले दूसरी अन्य सीट देना चाह रहे हैं, लेकिन बसपा अध्यक्ष इस पर राजी नहीं हैं। इसी के चलते अभी तक इन दोनों सीटों पर दोनों पार्टियां अपने उम्मीदवारो को लेकर कोई फैसला नहीं ले पा रही हैं।

ये पहली बार नहीं है जब अखिलेश यादव उम्मीदवारों के ऐलान पर मुलायम सिंह को नाराज कर रहे है। इससे पहले भी मुलायम सिंह ने संभल सीट से अपर्णा यादव का नाम आगे किया था। जिसपर भी अखिलेश यादव ने सहमति न जताते हुए शफीकुर्रहमान बर्क को चुनावी मैदान में उतारा है। जिससे नाराज होकर मुलायम सिंह ने सपा और बसपा के गठबंधन की आलोचना की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here