बड़ी खबर: बीजेपी में शामिल हुईं जयाप्रदा, यूपी में आजम खान को मिलेगी सीधी टक्कर?

0
440

भारतीय जनता पार्टी में बॉलीवुड की फेमस अभिनेत्री रहीं जया प्रदा मंगलवार को पार्टी में शामिल हो गईं हैं. और अब वो रामपुर लोकसभा सीट से सपा पार्टी के दमदार नेता आजम खान के खिलाफ महासंग्राम के रण में उतर सकती हैं. इससे पहले साल 2004 में सपा पार्टी ने जया प्रदा को रामपुर से कांग्रेस के खिलाफ उतारा था. जिसमें उनकी टक्कर कांग्रेस की बेगम नूर बानो के साथी थी. इसमें जया प्रदा ने जीत का परचम लहराया था.

तो वहीं जया प्रदा ने बीजेपी में शामिल होने के बाद कहा कि, “मुझे मोदीजी के नेतृत्व में काम करने का मौका मिल रहा है. ये मेरे लिए काफी सौभाग्य की बात है. और मैं जीवन का हर लम्हा बीजेपी को समर्पित करते हुए काम करूंगी. क्योंकि ये पल मेरी जिंदगी के सबसे अहम हैं”. जया प्रदा के बीजेपी में शामिल होने पर पीएम मोदी ने भी ट्वीट के जरिए उनका स्वागत किया.

इसी के साथ आपको बता दें, कि यूपी के रामपुर से सपा पार्टी से आजम खान चुनावी मैदान में उतरे हैं. और इन दोनों के बीच की अदावत किसी से छुपी भी नहीं है. इसलिए जया प्रदा के रण में उतरने को सियासी दुश्मनी का बदला कहा जा रहा है. हालांकि पहले ही पार्टी के सूत्रों के हवाले से ये खबर आई थी कि जया प्रदा सोमवार को बीजेपी में शामिल हो जाएंगी. लेकिन जया प्रदा ने बीजेपी में शामिल होकर सियासी हलचल को और भी ज्यादा बढ़ा दिया है. ये भी पढ़ेंः- आरजेडी करने वाली है उम्मीदवारों का ऐलान, यहां देखें पूरी लिस्ट

आजम खान के विरोध करने पर भी जीती थीं जया
साल 2009 के लोकसभा चुनाव में जब आजम खान सपा के उम्मीदवार थे. तब उन्होंने जया प्रदा का काफी विरोध किया था. इसके बावजूद जया प्रदा ने जीत हासिल की थीं. इसके बाद आजम खान की जुबान एक बार फिर विवादित हो गई थी. वो जया प्रदा को नाचने वाली अदाकारा कहने लगे थे. साथ ही सलाह देते थे कि उनकी जगह फिल्मों में है राजनीति में नहीं. दोनों नेताओं के बीच दुश्मनी इतनी बढ़ी कि अमर सिंह ने आजम खान की बात मानकर जया को सपा पार्टी से निष्कासित कर दिया था. इसके बाद जया प्रदा साल 2014 के लोकसभा चुनावों में बिजनौर से खड़ी हुईं लेकिन तब उन्हें जीत हासिल नहीं हुई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here