फीस भरने के लिए मां बेचती थी साड़ी, धोती थी बर्तन…अब इस एक्टर को कहते हैं ‘जैकी दादा’

0
467

बॉलीवुड एक्टर जैकी श्रॉफ आज भले ही बुलंदियों की सीढ़ी चढ़ चुके हो, लेकिन उन्हें ये सब किसी विरासत में नही बल्कि उन्होंने अपनी मेहनत के दम पर ये सब हासिल किया. जैकी दादा का बचपनी काफी संघर्षो के बीच गुजरा है. रिएलिटी शो सुपर डांसर चैप्टर-3 में जैकी श्रॉफ पहुंचे. इसी दौरान एक कंटेस्टेंट की कहानी और उनके जीवन के संघर्ष को सुनकर वो खुद को रोक नहीं पाए और इमोशनल हो गए. इसके बात जो जैकी श्रॉफ ने बताया वो सुन हर कोई इमोशनल हो गया.

एक्टर जैकी श्रॉफ ने बताया ‘मैंने अपने जीवन के 33 साल चॉल में बिताए हैं. हम लोग चॉल में रहते थे, जिसमें केवल 7 घर थे और उनके बीच 3 बाथरूम थे. मेरी स्कूल की फीस भरने के लिए मां बर्तन और साड़ियां बेचती थीं. हर इंसान के अंदर जादू होता है और हर कोई वो सब हासिल कर सकता है, जिसकी वो चाहत रखता है. एक हीरो बनने के कई साल बाद तक भी मैं उस चॉल में रहा था. मुझे उस जगह से काफी ज्यादा लगाव हो गया था.’

साथ ही उन्होने बताया कि ‘तब गम कम था जब कमरे कम थे.’ उनकी ये स्पीच सुनकर शो में मौजूद हर कोई शख्स इमोशनल हो गया. खुद जैकी श्रॉफ भी अपनी कहानी सुनाते हुए भावुक हो गए थे. ये भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी के लिए अच्छी खबर, यूपी में खत्म हो गई ये टेंशन

 

View this post on Instagram

 

????

A post shared by Jackie Shroff (@apnabhidu) on

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here