ICC ने लिया बहुत बड़ा फैसला, अब अंपायर की इस गलती से आउट नहीं होगा कोई बल्लेबाज

0
219
Loading...

अमूमन, क्रिकेट के मैदान में अंपायरों से गलतियां हो जाती है, जिसका खामियाजा अक्सर कभी बल्लेबाजी करने वाली टीम को भुगतना पड़ता है तो कभी बॉलिंग करने वाली टीम को। बहरहाल, अब अंपयारों से ऐसी गलतियां न हो, और इन गलतियों का खामियाजा किसी भी टीम को न भुगतना पड़े, इसके लिए अब आईसीसी कड़े और बड़े नियम लागू करने जा रही है। आइए आईसीसी के इन नियमों के बारे में सिलसिलेवार तरीके से जानने का प्रयास करते हैं। ये भी पढ़े :विराट कोहली की टीम में रोहित शर्मा को नहीं मिली जगह, उठने लगे ये गंभीर सवाल

वहीं, सर्वप्रथम इन नवनिर्मित नियमों को टी-20 और वनडे में इस्तेमाल किया जाएगा, ताकि इसकी उपयोगिता का पता लगाया जा सके। इन नियमों को ध्यान में रखते हुए आईसीसी के जनरल मैनेजर जोफ एलरडाइस ने बताया ,’तीसरे अंपायर को आगे का पांव पड़ने पर कुछ सैकेंड की फुटैज दी जाएगी। वहीं, वह मैदानी अंपायरों को बताएगा कि नॉ बॉल की गई है। इसलिए जब-तक अंपायर कोई फैसला न ले लें, तब तक गैंद को मान्य माना जाएगा।

हालांकि, 2016 में इस ट्राइल का इस्तेमाल किया गया  था। जब भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला हुआ था। उस मैच में ट्राइल देने के लिए थर्ड अंपायर को फुटैज देने के लिए हॉकआई ऑपरेटर का उपयोग किया गया था। बता दें कि इस टेक्नोलॉजी को नॉ टेक्नोलॉजी के नाम से भी जाना जाता है। ये भी पढ़े :भारत के इस सुपरस्टार क्रिकेटर पर लगा बैन, गलत दवाएं लेने से खतरे में करियर

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here