kalyan singh

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम और राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह लखनऊ के अस्पताल में भर्ती थे उनका 89 साल की उम्र में निधन हो गया है। उन्होंने शनिवार रात SGPGI अस्पताल में आखिरी सांस ली। वे 4 जुलाई से SGPGI हॉस्पिटल में भर्ती थे।

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज ही अपना गोरखपुर दौरा रद्द करके उनका हालचाल लेने हॉस्पिटल पहुंचे थे। हॉस्पिटल से मिली जानकारी के अनुसार उन्हें बताया कि उन्हें क्रिटिकल केयर आईसीयू में रखा गया था। संस्थान के क्रिटिकल केयर, न्यूरोलॉजी, यूरोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, इंडोक्राइनोलॉजी समेत विभिन्न विभागों के प्रोफेसरों की टीम उनके इलाज में लगी हुई थी। उन्हें कई दिनों से वेंटिलेटर पर रखा गया था।

मिली जानकारी के अनुसार कल्याण सिंह की हालत गंभीर होने पर उन्हें 4 जुलाई को लखनऊ के SGPGI हॉस्पिटल के ICU में भर्ती कराया गया था। उनके अंगों ने शनिवार को काम करना बंद कर दिया और sepsis हो गया। जिससे उनका निधन हो गया। उनके निधन की खबर मिलने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ SGPGI हॉस्पिटल जा रहे हैं।

कल्याण सिंह 5 जनवरी 1932 को अलीगढ़ के मढ़ौली गांव में पैदा हुए जोकि बीजेपी के कद्दावर नेताओं में शामिल थे। कल्याण सिंह 2 बार यूपी के सीएम और राजस्थान के राज्यपाल भी रहे थे। एक दौर में कल्याण राम मंदिर आंदोलन के सबसे बड़े और मशहूर चेहरों में से एक माने जाते थे। उनकी पहचान हिंदुत्ववादी और प्रखर वक्ता के रूप में की जाती थी। ऐसे में इतिहास भी कल्याण सिंह के योगदानों को सदैव याद रखेगा। कल्याण सिंह का जाना भारतीय राजनीति के लिए एक ऐसी क्षति है जिसकी भरपाई नहीं हो सकती।

इसे भी पढ़ें:- विवाद के बाद पहुंची पुलिस से ग्रामीणों की जमकर मारपीट, गांव में भारी फोर्स तैनात