कश्मीर में धारा 370 हटते ही एक्शन में आया चुनाव आयोग, हो रही है बड़ी तैयारी

0
26
Loading...

यूपी। जम्मू-कश्मीर के परिसीमन के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा के लिए चुनाव आयोग की बैठक जारी की गई है। बता दें कि पिछले एक साल से घाटी में चुनाव को लंबित किया जा रहा है। जिसके चलते फिलहाल राष्ट्रपति शासन चल रहा है। आर्टिकल 370 एक्ट हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में स्थानिय वासियों की जिंदगी धीरे-धीरे पटरी पर आ रही है। यहीं वजह है कि अब यहां चुनाव आयोग जल्द चुनाव करवाना चाहती है। इसे भी पढ़ें : जम्मू-कश्मीर पर फिर से बड़ा फैसला लेने वाले हैं पीएम मोदी, आपको इस बात का अंदाजा भी नहीं होगा

परिसीमन की प्रक्रिया शुरू होगी जल्द
चुनाव आयोग ने इस मामले पर आज पहली बैठक बुलाई है। जिसमें चीफ इलेक्शन ऑफिसर से नए परिसीमन की जानकारी भी मांगी है। आपको बता दें कि गृह मंत्रालय के कहने पर अब चुनाव आयोग परिसीमन की प्रक्रिया शुरू कर देगा। वहीं इस बारे में सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, चुनाव आयोग की तरफ से राजनीतिक पार्टियों, स्थानीय लोगों से विचार के बाद रिपोर्ट तैयार की जाएगी, जो बाद में सरकार को सौंपी जाएगी।

चुनावों से पहले चुनाव आयोग ने कसी अपनी कमर
दरअसल, ऐसा कहा जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर में विधानसभा में अभी कुछ और महीने लग सकते हैं। इसकी वजह से चुनाव आयोग पहले विधानसभा सीटों का परिसीमन करेगी और फिर उसके बाद ही चुनाव की प्रक्रिया को शुरु की जा सकेगी। हालांकि इसके लिए चुनाव आयोग ने घाटी में चुनावों से पहले ही अपनी कमर कस ली है। इसे भी पढ़ें :  जम्मू-कश्मीर: अजीत डोभाल ने अधिकारियों को दिए निर्देश,घर घर जाकर करें ये काम

बैठक में मौजूद हुए ये अधिकारी
बता दें चुनाव आयोग ने इस बैठक में शुरुआती चर्चा की, इस दौरान मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा, दोनों चुनाव आयुक्त और चुनाव आयोग के अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए थे।

यहां राज्यपाल नहीं उपराज्यपाल होगा
गौरतलब है कि 370 एक्ट को हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया है और लद्दाख को एक अलग केंद्र शासित प्रदेश। जहां जम्मू-कश्मीर में विधानसभा होगी। वहीं लद्दाख में भी सिर्फ केंद्र शासित प्रदेश होगा। साथ ही यहां राज्यपाल नहीं उपराज्यपाल होगा।

सीटों की संख्या बढ़ाकर की जाएगी इतनी!
जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन कानून के मद्दे नजर धारा 60 में ऐसा कहा गया है कि, “विधानसभा में सीटों की संख्या को 107 से बढ़ाकर 114 किया जा सकता है।” इसे भी पढ़ें : धारा 370 पर इस बॉलीवुड एक्ट्रेस के ट्वीट से भड़के लोग, जम्मू-कश्मीर को दिखाया काला

 

हमारा यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here