HomeBreaking Newsसांसद नुसरत जहां के जगन्नाथ यात्रा में जाने पर फतवा..कहा-मुझे मत सिखाओ...

सांसद नुसरत जहां के जगन्नाथ यात्रा में जाने पर फतवा..कहा-मुझे मत सिखाओ धर्म क्या है

- Advertisement -

अभिनेत्री से सांसद बनी नुसरत जहां पर धर्म के ठेकेदारों ने फतवा जारी कर दिया है। दरअसल नुसरत जहां आज कोलकाता में भगवान जगन्नाथ यात्रा में अपने परिवार के साथ पहुंची थी। जहां उन्होंने विधि विधान से पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और अपने परिवार और के साथ पूजा अर्चना की। बस फिर क्या था ये धर्म के ठेकेदारों को पंसद नही आया और फतवा जारी कर दिया। वैसे पहाल फतवा नही जो जारी हुआ वो इससे पहले भी नुसरत जहां को हिंदू से शादी करने पर फतवा जारी हो चुका है। जहां नुसरत ने धर्म के ठेकेदारों को मुंह तोड़ जवाब दिया था। वही कोलकाता में भगवान जगन्नाथ यात्रा में अपने परिवार के साथ पहुंची नुसरत जहां सिर पर पल्लू लिए मांग में सिंदूर लिए भगवान जगन्नाथ की यात्रा का भाग बनी और पूजा अर्चना की। रथ यात्रा में दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी मौजूद रहीं। नुसरत ने ममता के साथ भगवान का रथ भी खींचा था।

हिंदू बिजनसमैन निखिल जैन से शादी रचाने वाली नुसरत जहां ने अपने खिलाफ जारी कथित फतवे पर कहा, “जो चीजें आधारहीन होती हैं, मैं उन पर ध्‍यान नहीं देती हूं। मैं अपना धर्म जानती हूं। मैं जन्‍म से मुस्लिम हूं और आज भी मुस्लिम हूं। यह आस्‍था का मामला है। इसे आपको अपने अंदर से महसूस करना होता है न कि अपने दिमाग से”। आपको बता दें कि  नुसरत जहां कोलकाता के इस्‍कॉन मंदिर से निकली रथयात्रा के दौरान विशेष अतिथि थीं और सीएम ममता बनर्जी के साथ पूरे कार्यक्रम के दौरान मौजूद रहीं।

मंदिर की तारिफ
वही इस्कॉन के प्रवक्ता ने नुसरत को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रण देने के सवाल पर कहा, “हम सभी धर्मों को मानने वाले लोग हैं। हमने पाया कि नुसरत के विचार हमारे विचारों से मिलते हैं। वह भी सभी धर्मों का आदर करती हैं। ऐसे में एक नए राजनेता के रूप में वह निश्चित ही आज के युवाओं को अपने विचारों से प्रभावित करेंगी। यही सोचकर हमने उन्हें यह निमंत्रण दिया”।

 

 

 

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here