दिल्ली में अकेली पड़ी शीला, कांग्रेस-AAP का गठबंधन तय

0
298

लोकसभा चुनाव 2019 में  बीजेपी पार्टी का सूफड़ा साफ करने के लिए अब आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच छिड़ी हुई रार खत्‍म होने जा रही है.आम आदमी पार्टी की तरफ से कांग्रेस के साथ दिल्ली की सात लोकसभा सीटों पर गठबंधन को लेकर लगातार प्रयास किया जा रहा था. लेकिन कांग्रेस पार्टी हाईकमान की ओर से कोई प्रतिक्रिया न मिलने की वजसे सब कोशिश नाकाम साबित हो रही था.

कांग्रेस पार्टी सूत्रों के अनुसार, तो केंद्रीय अगुवाई के संकेत के बाद दिल्ली कांग्रेस के लगभग सभी बड़े नेता गठबंधन को लेकर राज़ी हो गए हैं. तो जबकि, दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित को आप- कांग्रेस गठबंधन के लिए मनाने के लिए. कांग्रेस पार्टी के दिल्ली प्रभारी पीसी चाको के साथ सोमवार को महत्वपूर्ण बैठक आयोजित होने की उम्मीद की जा रही है.

ये भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव की घोषणा से पहले कांग्रेस पार्टी और आप पार्टी के बीच किस तरह के राजनेताओं के बयान सामने आ रहे थे.

दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से आप पार्टी की ओर से कांगेस पार्टी से 7 लोकसभा सीटों पर गठबंधन को लेकर कोशिश लगातार जारी है. लेकिन, अभी तक दिल्ली में  आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन पर बात नहीं बन पाई है. कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी ने साफ कर दिया था कि हमारी पार्टी सात लोकसभा सीटों पर अकेली चुनाव लड़ेगी.

तो वहीं, दिल्ली की अध्यक्ष शीला दीक्षित ने बताया था कि आप पार्टी की ओर गठबंधन को लेकर कोई प्रस्ताव नहीं आया है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पलटवार करते हुए कहा कि बीजेपी और कांग्रेस पार्टी का गठबंधन हो चुका है. ये भी पढ़ें:आम आदमी पार्टी को दिल्ली के बाद पंजाब से भी झटका कैप्टन ने कह दी बड़ी बात 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here