अभिनंदन को बॉर्डर तक छोड़ने आई ये ‘महिला’, जाने कौन है ?

0
431
abhiiii

एक लंबे ड्रामे के बाद पाकिस्तान की सरकार ने भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन वर्धमान को छोड़ दिया। अभिनंदन वर्धमान को शुक्रवार रात करीब 9 बजे पाकिस्तानी रेंजर्स और तमाम अधिकारियों अटारी-वाघा बॉर्डर पर छोड़ने आए। इस दौरान हजारों की संख्या में सुबह से इंतजार कर रहे लोगों ने वायुसेना के पायलट का स्वागत किया। लेकिन सभी के मन में एक सवाल भी था कि अभिनंदन के साथ मौजूद महिला कौन है। जो अभिनंदन के साथ अटारी वाघा बॉर्डर तक आई थी और फिर उन्हें छोड़कर पाकिस्तान चली गई।

दरअसल महिला का नाम डॉ फरिहा बुगती है। जो पाकिस्तान में विदेश विभाग की डायरेक्ट है। फरिहा बुगती पाकिस्तान विदेश सेवा की अधिकारी है और भारतीय विदेश सेवा के मामले भी फरिहा ही देखती है। जिसके चलते वह पायलट अभिनंदन को भारत की सीमा तक छोड़ने आई थी। हालांकि आपको बता दे कि पाकिस्तान में गिरफ्तार नौसेना के पूर्व अधिकारी कूलभूषण जाधव का मामला भी फरिहा बुगती ही देखती है। पिछले साल जब जाधव की मां और पत्नी उनसे मिलने पाकिस्तान गए थे, उस दौरान भी फरिहा वहा मौजूद थी।

आपको बता दें कि सीमा पर चल रहे तनाव के बीच पाकिस्तान ने F-16 लड़ाकू विमान के सहारे भारतीय सैन्य ठिकानो को निशाना बनाने की कोशिश की थी, लेकिन भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन ने इसको मार गिराया। लेकिन इस दौरान वह पाकिस्तान के कब्जे वाले इलाके में गिरे। जिसके बाद उन्हें पाकिस्तानी सेना ने बंधक बना लिया था।

जिसके बाद अंतरराष्ट्रीय प्रेसर और सीमा पर तनाव के कारण पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को पायलट अभिनंदन की रिहाई की घोषणा करनी पड़ी। इसके बाद शुक्रवार सुबह से ही हिंदुस्तान में अभिनंदन की वापसी का इंतजार होता रहा और रात हो गई, लेकिन नौ बजे तक अभिनंदन वतन वापस नहीं आए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here