योगी के प्रदेश में बीजेपी नेताओं का घोटाला, भर्ती के नाम पर कर रहे हैं पद का गलत इस्तेमाल

0
108
Loading...

यूपी। सरकारी नौकरी को लेकर सभी जगह होड़ लगी हुई है। लोग सीधा रास्ता अपनाने के बजाए गलत रास्ता अपनाते हैं। लेकिन ऐसे ही गलत रास्ते को बीजेपी बढ़ावा दे रही है। बीजेपी ने लोगों के सामने ‘भ्रष्ट मुक्त’ भारत का एक एजेंडा सेट कर रखा है। जिस पर काम करने का दावा कर रही है और इतना ही नहीं इसको लेकर कई योजनाएं और नियम बनाए गए हैं। सवाल तो यह उठता है कि इस नारे को कितना माना जा रहा है।
मेडिकल कॉलेज में हो रहा है भ्रष्टाचार
बता दें कि हाल ही में उत्तर प्रदेश के बस्ती में मेडिकल कॉलेज का निर्माण किया जा रहा है। जिसके लिए सरकार पहले से ही स्टाफ की भर्ती कर रही है। लेकिन इस भर्ती में एग्जाम और इंटरव्यू पास करने के बजाए नेताओं की सिफारिशों से पदों की भर्ती करवाई जा रही है। चौंकाने वाली बात तो यह है कि जो भारतीय जनता पार्टी ‘भ्रष्ट मुक्त’ भारत का नारा लगा रही है। उन्हीं के कार्यकर्ता अपने पदों का गलत इस्तेमाल कर योगी जी की नाक के नीचे भ्रष्टाचार करने पर तुले हुए हैं।

लेटर पैड हेड पर लिखकर दे हैं सिफारिशे 
खबरों के मुताबिक, मेडिकल कॉलेज में नौकरी पाने के लिए केंडिडेट बीजेपी नेता को घूस खिला रहे हैं। इसके लिए बीजेपी नेता अपने लेटर पैड हेड पर अपने जानने वालों के नाम लिख कर सिफारिश कर रहे हैं। जिनमें बीजेपी के सांसद नेता हरीश द्विवेदी ,दो विधायक और जिलाध्यक्ष शामिल हैं। बता दें कि बीजेपी नेताओं ने अपने लेटर पैड हेड पर जिन जानने वालों के नाम लिखे थे, इसके लिए एक लिस्ट बनाकर मेडिकल कॉलेज के अधिकारी को दी थी। जों अब लीक हो गई है। बता दें कि मेडिकल कॉलेज में अलग-अलग पदों के लिए भर्ती की जानी थी। जिनमें डॉक्टर से लेकर प्रोफेसर और चपड़ासी आदि को लेना था। इन पदों की सीटों के लिए कुल 178 सीटें ही थी। जिनमें अधिकतर बीजेपी के नेताओं के सिफारिश से आने वाले परिजनों के नाम पहले से ही लिख कर दे दिए गए थे।

एमएलसी ने खोली बीजेपी नेताओं की पोल
दरअसल, मेडिकल में पदों पर नियुक्त होने के भर्ती की शिकायत एमएलसी हरीष सिंह ने की। जिसके बाद भ्रष्ट बीजेपी नेताओं को पोल खुल सकी।

पदों की भर्ती इंटेलिजेंस की देखरेख में होगी
ऐसा कहा जा रहा है कि अब मेडिकल कॉलेज में पदों की भर्ती इंटेलिजेंस सिक्योरिटी सर्विस की देखरेख में की जाएगी।

ये हैं बीजेपी नेता 

जिन बीजेपी नेताओं ने अपने लेटर पैड हैड पर नाम लिख कर परिजनों की सिफारिश लगाई थी, उनमें बस्ती के विधायक दयाराम चौधरी, सांसद सदस्य हरीश द्विवेदी,, जिलाध्यक्ष पवन कसौधन, विधायक अजय सिंह आदि नेता शामिल हैं। इन्होंने दर्जनों के भाव में अपने परिजनों के नाम लेटर पैड हैड पर मेडिकल कॉलेज में पदों की सिफारिश के लिए लिखें हैं।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here