लोकसभा चुनाव से पहले AAP नेताओं में घमासान, कहा ‘थूक चाटना शोभा नहीं देता’

0
289
collage neww 2

अकसर चुनावों के दौरान राजनीतिक दलों के बीच बयानबाजी कर आपस में भिड़ते देखा है। लेकिन दिल्ली की केजरीवाल सरकार के लिए विपक्षी दल नहीं बल्कि अपने खुद के दो विधायक सरदर्दी बन गए है। हुआ यूं की मंगलवार को कांग्रेस ने अपना चुनावी घोषणा पत्र जारी किया जिस पर आप विधायक अलका लांबा ने ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया दी। लेकिन विवाद तब शुरु हो गया जब अलका के ट्वीट के बाद आप विधायक सौरभ भारद्वाज ने भी ट्वीट कर दिया। फिर क्या था दोनों विधायक आपस में भिड़ गए। इन दोनों के बीच ट्विटर पर कई घंटों तक जुबानी जंग चलती रही।

https://twitter.com/LambaAlka/status/1113031286782939136

दरअसल अलका ने कांग्रेस के घोषणापत्र जारी होने के बाद इस पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया और इसके जरिए अपनी ही पार्टी के दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने की मांग पर सवाल उठा दिया। उन्होंने ट्वीट किया कि ‘हर पार्टी का अपना घोषणा पत्र होता है, कांग्रेस के घोषणा पत्र में पुड्डुचेरी को तो पूर्ण राज्य देने की बात है पर दिल्ली को लेकर कोई बात नहीं है। साफ है कि कांग्रेस के लिए अब “दिल्ली-पूर्ण राज्य”मुद्दा नहीं रहा। वहीं आप इसी मुद्दे को अपना प्रमुख मुद्दा बना रही है। #गठबंधन कैसे होगा?’


अलका लांबा के इस ट्वीट के बाद आप विधायक सौरभ भारद्वाज के ट्वीट किया ‘आप क्या चाहती है?’ इसके जवाब में लांबा ने ट्वीट किया कि ‘मेरे चाहने ना चाहने से क्या फर्क पड़ता है। वैसे भी यह पूछने का समय अब निकल चुका है अब तो दिल्ली की जनता ही तय करेगी।’ इस पर भारद्वाज ने फिर प्रतिक्रिया दी और कहा कि जनता को पता होना चाहिए उनका नेता क्या चाहता है, तभी तो जनता अपने नेता के बारे में तय करेगी।

इसके बाद अलका लांबा ने तिखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ‘मेरी जनता मुझे बखूबी जानती है, 2020 आने पर पूरे 5 साल का जवाब-हिसाब और क्या सोचती हूं सब बता दूंगी, दूसरी बात मैं आप से उलट सोचती हूं, जनता से अधिक नेता को पता होना चाहिए कि उसकी जनता क्या सोचती और चाहती है, नेता को वही करना चाहिए, ना कि जनता पर अपनी थोपनी चाहिए।

https://twitter.com/LambaAlka/status/1113142541745106944

दोनों के बीच चली ट्वीट जंग तेज होती चली गई। इस बीच सौरभ ने अलका से कांग्रेस में शामिल हो जाने को कहा। जिसपर अलका ने पलटवार करते हुए कहा कि छोटे भाई, धोखा मत दो बड़ी बहन को, यह आदत अब बदल लो, वचन दिया है, अब कल 3 बजे, जामा मस्जिद गेट नंबर 1 पर पहुंच जाना। थूक कर चाटने की आदत तो भाजपाइयों की है, आप को यह शोभा नही देता। कल मुझे छोटे भाई सौरव का इंतज़ार रहेगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here