HomeBreaking Newsयूपी में अपराधियों का अड्डा बना बस्ती जिला, अब फर्जीवाड़े और कालाबाजारी...

यूपी में अपराधियों का अड्डा बना बस्ती जिला, अब फर्जीवाड़े और कालाबाजारी का भी खुला खेल

- Advertisement -

उत्तर प्रदेश का बस्ती जिला, जहां से आए दिन कोई ना कोई वारदात सामने आ रही है। बस्ती का गौर तो अपराधियों का अड्डा बन चुका है। जहां अपराधी आए दिन नई-नई वारदातों को अंजाम देते हैं। लेकिन प्रशासन हाथ पर हाथ धरे बैठा रहता है। हाल ही में एक मामला बस्ती के हरैया से सामने आया है। जहां गौर विकास खंड के ग्राम पंचायत के कोटेदार और उसके भाई पर फर्जी राशन उठाने व कालाबाजारी करने जैसे गंभीर आरोप लगे हैं। न्यायलय के आदेश से पैकोलिया पुलिस अधिकारी ने कोटेदार और उसके भाई के विरुद्ध जालसाजी व आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया है।

पैकोलिया थाना क्षेत्र के ऐनपुर निवासी प्रहलाद नारायण सिंह के पुत्र सुभाष ने न्यायलय में एसीजेएम प्रथम के बाद दर्ज करके आरोप लगाते हुए कहा था कि, कोटेदार ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह और उनके भाई नागेंद्र प्रताप सिंह पांच सालों से एक मृतक के नाम पर राशन उठा रहे हैं। और कालाबाजारी कर रहे हैं। कोटेदार पर ये भी आरोप लगाया गया कि, जो लोग गांव में रहकर अपनी जीविका चला रहे हैं, उनके नाम का भी राशन उठाकर हड़प लिया जाता है।

फर्जी अंगूठा लगाकर विभाग को गुमराह करने के आरोप
कोटेदार व उसके भाई पर वितरण रजिस्टर पर उपभोक्ताओं की गैर मौजूदगी के बाद फर्जी अंगूठा,हस्ताक्षर के द्वारा विभाग को गुमराह करने के भी आरोप लगे हैं। इन सभी आरोपों के बाद न्यायालय ने मामले की गंभीरता को देखते हुए पैकोलिया पुलिस को इस मामले की जांच के आदेश दिए थे। कोर्ट ने सात दिनों के भीतर मामले की रिपोर्ट भेजने के भी आदेश दिए गए। न्यायालय के आदेशानुसार पुलिस ने कोटेदार ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह और उनके भाई नागेंद्र प्रताप सिंह पर विभिन्न्न धाराओं के अंतर्गत मुकदमा दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी है। ये भी पढ़ेंः- सवालों के घेरे में आया बस्ती प्रशासन, दिन-दहाड़े मर्डर, लूट जैसी घटनाओं को अपराधी दे रहे अंजाम

देखिए, हमारी खास रिपोर्ट…अपराधियों और दलालों का अड्डा बना UP का बस्ती जिले का गौर थाना

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here