चला गया यूपी का लाल, ये शहादत आज भी कलेजा चीर देती है

0
315

पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों में से एक जांबाज जवान थे शहीद अजय कुमार. जिनका पार्थिव शरीर सोमवार रात कैंट स्थित आर्मी अस्पताल पहुंचा. इसके बाद उनके पार्थिव शरीर को मंगलवार सुबह उनके गांव बसी टीकरी ले जाया गया. वहीं जब अपने लाल को तिरंगे में लिपटा हुआ परिवार वालों ने देखा तो हर किसी का रो-रोकर हाल बुरा था. जिस किसी ने भी शहीद अजय कुमार के अंतिम दर्शन किए उसका सीना पसीज गया. घर पर लोगों का हुजूम उमड़ा पडा और चारों तरफ पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगने लगे. हर कोई इस लाल की अंतिम यात्रा में शामिल होने पहुंचा.

पाकिस्तान के खिलाफ आक्रोश
मेरठ के लोगों में अपने लाल को खोने का काफी दुख है तो वहीं पाकिस्तान के खिलाफ लोगों में गुस्सा भरा हुआ है. हर कोई पाकिस्तान पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहा है. शहीद को श्रद्धांजलि देने और परिजनों को सांत्वना देने के लिए शहीद के घर कई मंत्री और विधायक पहुंचे, जिनमें मेरठ के प्रबारी मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह, राष्ट्रीय लोकदल के जयंत चौधरी, मेरठ के भाजपा विधायक दिनेश खटीक, संगीत सोम, जितेंद्र सतवाई, सोमेंद्र तोमर, सतवीर त्यागी, वरिष्ठ भाजपा नेता चौधरी अजीत सिंह, सांसद राजेंद्र अग्रवाल व केंद्रीय मंत्री सतपाल सिंह शामिल हैं.

वहीं जहां घर के बाहर बैठे बुजुर्गो और बाकी लोगों ने पीएम मोदी की वाराणसी रैली पर सवाल उठाए, तो पीएम मोदी से कहा कि पाकिस्तान को करारा जवाब देने में देर कर दी है. साथ ही यहां की गलियां अब सूनी पड़ गई है और घरों के चूल्हे ठंडे. इस शहादत को कोई भूल नहीं पा रहा है बस हर कोई चाहता है तो पाकिस्तान को जवाब दिया जाए. ये भी पढ़ें: कश्मीर की माताएं अपने आतंकी बेटों का सरेंडर करवाएं, जो बंदूक उठाएगा वो बेमौत मरेगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here