अपहरण के बाद युवक की हत्या, शव को सड़क पर रख परिजनों ने किया प्रदर्शन

0
258
kidnapping

उत्तर प्रदेश के कबीजगंज में युवक की हत्या से सनसनी फेल गई। दरअसल कुछ दिन पहले ही सर्राफा व्यापारी के बेटे का अपहरण हुआ था। जिसके चलते अपहरणकर्ताओं ने 10 लाख रूपये फिरोती की रकम मांगी थी। लेकिन बाद में अपहरणकर्ताओं ने युवक की हत्या कर दी। वही हत्या के बाद युवक के पिता ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है और पुलिस को हत्या का जिम्मेदार ठहराया है। हालांकि पुलिस अब आरोपियों की तलाश में जुटी हैं लेकिन समय बितने के बाद भी हत्यारें पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। जिससे गुस्साएं परिजनों ने मृतक युवक का शव चौराहे पर रख पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया।

सर्राफा व्यापारी धर्मेन्द्र वर्मा ने बताया कि उनका 25 वर्षीय पुत्र अर्पित वर्मा शनिवार देर शाम करीब 8:45 बजे घर से अपनी मोटरसाइकिल पर निकला था लेकिन तभी से अर्पित लापता है। वही उसी रात 10 बजे अर्पित के फोन से ही अपहरणकर्ताओं का फोन आया और दस लाख की फिरौती मांगी। जिसके बाद धर्मेन्द्र ने पुलिस को सूचना दी। देर रात तक पुलिस से मदद की गुहार लगाते रहे और रात तीन बजे तक पुलिस के अधिकारियों के घर के चक्कर लगाते रहे।

इसके आगे धर्मेंद्र ने कहा कि सुबह होने पर पुलिस ने कहा धर्मेंद्र से कहा कि फिरौती की रकम तैयार रखिए। पैसे और बेटा दोनो मिल जाएगा। जिसके बाद धर्मेंद्र ने 10 लाख रूपये की व्यवस्था की। जिसके बाद दोपहर को सूचना मिली कि कोतवाली क्षेत्र में उनके बेटे की लाश पड़ा है। धर्मेन्द्र ने कहा कि उनके बेटे के अपहरण की सूचना को यदि पुलिस गंभीरता से लेती तो उनका बेटा आज जीवित होता।

क्षेत्राधिकारी नगर एसएन वैभव पाण्डेय ने बताया कि जानकारी मिली है कि मृतक के मित्र ने उससे पांच लाख रूपए की मदद की मांग की थी। जिसे मृतक के पिता ने देने से मना कर दिया था। पुलिस उसी दिशा में शक के आधार पर कार्रवाई करते हुए मृतक के उन मित्रों की तलाश में जुट गयी है। उनकी गिरफ्तारी के बाद ही कुछ तथ्य सामने आ पाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here