आखिर केजरीवाल पर ही क्यों होते हैं इतने हमले…पुलिस ने खुद बताई बड़ी बात

0
102
arvind_kejriwal
Loading...

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हाल में हमला हुआ है। जिसको लेकर सियासी लड़ाई शुरू हो गई है। पार्टी ने दूसरी पार्टियों पर आरोप लगाने भी शुरू कर दिए हैं। आप पार्टी का कहना है कि, बीजेपी ने अरविंद केजरीवाल पर हमला करवाया है तो बीजेपी का कहना है कि, ये चुनाव से पहले आप की स्क्रिप्ट का हिस्सा भी हो सकता है। खैर चुनावी माहौल में ये तो सब चलता ही रहेगा। आखिर देश में चुनाव का सबसे बड़ा महापर्व जो चल रहा है। लेकिन इस बीच सबसे बड़ा सवाल ये उठता है कि, आखिर दिल्ली के सीएम पर ही इतने हमले क्यों होते हैं? इस पर दिल्ली पुलिस ने अपनी राय रखी है।

केजरीवाल पर हमले की पुलिस ने बताई वजह
हाल में दिल्ली के सीएम पर रोड शो के दौरान एक व्यक्ति ने थप्पड़ जड़ दिया। जिसे पुलिस ने फौरन हिरासत में भी ले लिया है। पर अब दिल्ली पुलिस का कहना है कि, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के एतराज के कारण सुरक्षाकर्मी अपना घेरा नहीं बना पाते। जिसमें जेड श्रेणी के 22 जवानों का सुरक्षा कवज उनके साथ रहता है। इसमें कमांडो और पुलिस अधिकारी शामिल रहते हैं। जिससे मुख्यमंत्री की सुरक्षा रहे। इस सुरक्षा घेरे में मुख्यमंत्री की गाड़ी से पहले पायलट गाड़ी चलती है। लेकिन अरविंद केजरीवाल इस तरह का सुरक्षा घेरा बनाने नहीं देते। जिस कारण उन पर हमले होते हैं।

दिल्ली पुलिस का ये भी कहना है कि, भीड़ वाले इलाकों में पुलिस फोर्स को बढ़ा दिया है। पर आमतौर पर सीएम के साथ 15 सुरक्षाबल मौजूद रहते हैं। हालांकि अरविंद केजरीवाल पर हुए इस हमले पर आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्र बाबू नायडू, शरद यादव सहित देश के कई नेताओं ने उनके साथ हुई घटना को  दिल्ली पुलिस को लापरवाह बताया है। ये भी पढ़ेंः- केजरीवाल पर पड़ा जोर का तमाचा..AAP ने कहा- ये हत्या की साजिश है

दिल्ली सीएम ने घटना पर पीएम पर साधा निशाना
अरविंद केजरीवाल ने अपनी साथ हुई घटना पर पीएम मोदी पर हमला किया। वो बोले कि “एक मुख्यमंत्री पर हमला होता है और केंद्र सरकार कहती है कि उन्हें शिकायत नहीं मिली इसलिए कार्रवाई आगे बढ़ने में असमर्थ है। इस पर पीएम को इस्तीफा दे देना चाहिए। यह अरविंद केजरीवाल पर हमला नहीं है, यह दिल्ली के जनादेश पर हमला है”। ये भी पढ़ेंः- थप्पड़ खाने के बाद बोले केजरीवाल मैं पहला सीएम हूं, जिस पर इतने हमले हुए हैं

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here