Thursday, February 9, 2023

यूपी का लाल…पत्नी कर रही थी फोन का इंतजार, आई शहादत की खबर

Must read

- Advertisement -

पुलवामा अटैक में शहीद-ए-आजम चंद्रशेखर आजाद की सरजमीं का एक और आजाद देश के लिए शहीद हो गया। आतंकी हमले के बाद परिवार के लोगों ने देखा कि न्यूज चैनलों पर टीवी स्क्रीन पर जवान शहीद का नाम लिखा आ रहा हैं. तो उसी वक्त रंजन भाई बेहोश हो गया. इसी बीच आए एक फोन से घर में मातम पसर गया. कलॉनी के लोग भी अजीत की शहादत की बात सुन शोक की लहर दौड़ गई। सूचना पर पहुंच कर जिलाधिकारी और एसपी ने मौके पर पहुंचकर परिजनों को सांत्वना दी. आपकों बता दें कि हमले में शहीद हुए CRPF जवान अजीत कुमार आजाद जम्मू में सीआरपीएफ की 115वीं बटालियन में नियुक्त हुई थी. एक महीने की छुट्टी बिताकर परिजनों के साथ 10 फरवरी को वे उन्नाव से ड्यूटी ज्वाइन करने के लिए रवाना हुए थे.

- Advertisement -

बताया जा रहा है कि बुधवार को पत्नी मीना से उसकी फोन पर भी बात हुई और दोनों ने एक दूसरे से हालचाल पूछा। जवान अजीत ने गुरुवार को रात में पत्नी से बात करने का वादा किया था. पत्नी पति के फोन का बेसब्री से इंतजार कर रही थी कि अचानक टीवी पर उसकी शहादत की खबर सुनकर वे होश खो बैठी और बेहोश हो गई. परिवार के किसी भी व्यकित को जवान की शहादत का  विश्वाश नहीं हो रहा था. अजीत भी हमले में देश के लिए शहाद्त दें दी हैं.

इसी बीच सीएआरपीएफ के एक अधिकारी ने मां के फोन पर अजीत के शहीद होने की जानकारी दी तो परिवार में मातम पसर गया. आनन-फानन में वह टीवी बंदकर रोते हुए बाहर की ओर भागा तो मोहल्ले की भीड़ इकट्ठा हो गई। लोग अजीत की मिलनसारिता को याद कर अपने आंसू नहीं रोक पा रहे थे लेकिन बुजुर्ग माता को देख उन्होंने आंसू भी रोक लिए।

एक माह की छुट्टी बिताकर वापस ड्यूटी जाने के दौरान अजीत की दोनों बेटियों श्रेया 7, ईशा 10 ने उन्हें रोका तो अजीत ने दोनों बेटियों और पत्नी मीना को जल्दी दोबारा छुट्टी लेकर घर आने और साथ जम्मू लेकर वैष्णोदेवी के दर्शन कराने की बात कह दुलराने के बाद निकल गया। पापा के शहीद होने पर दादी राजवंती और मां मीना के साथ अन्य परिजनों को बिलखता देख बच्चियां भी रो पड़ी। अजीत आजाद की शहादत पर आंसू बहा रहे परिवार में हमले को लेकर आतंकियों पर बेहद गुस्सा था। परिवार के लोग बोले बेटा नहीं देश पर हमला हुआ है। सरकार बदला जरूर लेगी। अजीत पांच भाइयों में सबसे बढ़ा था, छोटा भाई मंजीत सेना में हवलदार पद पर भोपाल में तैनात है। ये भी पढ़ें :‘देश के सवा सौ करोड़ लोग मेरे साथ हैं, मैं पाकिस्तान से नहीं डरता PM मोदी का खुला ऐलान

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article