ये है देश की सबसे कम उम्र की पंचायत प्रधान, पीएम मोदी से भी हो चुकी है सम्मानित

203
jabna

हिमाचल प्रदेश में इन दिनों सबसे कम उम्र की प्रधान बनने के बाद जबना चौहान सुर्खियों है। जिसके बाद जबना अपने क्षेत्र के सुधारने के लिए कड़े फैसले भी ले रही है। जिसका सबसे अच्छा उदाहरण बना शराबबंदी लागू करवाना। दरअसल प्रधान बनने के तुरंत बाद जबना ने पंचायत में शराबबंदी लागू करवाया। जिसके बाद अब जबना ने अपनी पंचायत को जिले में नबंर वन बनवाया। हालांकि इस दौरान जबना को कई बार मारने की धमकी तक मिल है लेकिन इन धमकियों से डरे बीना जबना ने इस काम को पूरा किया है।

आपको बता दें कि जबना को मंडी जिला के गोहर ब्लाक की थरजून पंचायत में कई काम करने के लिए पूर्व मुख्यमंत्र वीरभद्र सिंह और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से सम्मानति भी हो चुकी है। इसके अलावा अतंरराष्ट्रीय महिला दिवस पर पीएम मोदी की अध्यक्षता में आयोजित महिला सरपंचों के सम्मेलन में इन्हें प्रशस्ति पत्र दिया गया था।

इसके अलावा अभिनेता अक्षय कुमार ने भी गुड़गांव बुलाक जबना को सम्मानित किया है। अक्षय कुमार ने उन्हें अपनी फिल्म ‘टॉयलेट एक प्रेम कथा’ के प्रमोशन इवेंट के दौरान समानित किया था। इस इवेंट में प्रधान जबना चौहान ने अपने विचार भी रखे। जिस पर अभिनेता अक्षय कुमार तथा इवेंट में उपस्थित लोगों ने उन्हें खूब सराहा।

गौरतलब हैं कि 22 साल की जबना ने जिस बहादूरी अपनी पंचायत के लिए काम किया है वो सराहनिय है। जबना के रास्ते से जिले के और युवाओं को एक नई राह मिलेगी।