PM मोदी आज करेंगे ‘संपत्ति कार्ड’ योजना का शुभारंभ, जानें इसके फायदे, ये राज्य हो रहे लाभान्वित

182

बदलावों की बयार के इस कड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अब एक और बदलाव करने जा रहे हैं। पीएम मोदी आज सुबह 11 बजे देश के ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करने वाले भू स्वामित्व को संपत्ति कार्ड वितरित करने जा रहे हैं। इस कार्ड के कई फायदे हैं। इसके लिए उन्होंने बकायदा स्वामित्व योजना का शुभारंभ किया है। इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करने वाले संपत्ति मालिकों के संपत्ति का पूरा ब्योरा रिकॉर्ड में दर्ज हो जाएगा। इस योजना के ऐलान के बाद आपके फोन में एक एसएमएस आएगा,  जिसमें आपको एक लिंक भेजा जाएगा,  उस लिंक के माध्यम से संपत्ति मालिक अपना संपत्ति कार्ड डाउनलो़ड कर सकते हैं। इसके बाद वो इसकी हार्ड कॉपी सरकारी विभाग से प्राप्त कर सकते हैं।

इन राज्यों को मिल रहा फायदा 
यहां पर हम आपको बताते चले कि संपत्ति कार्ड का फायदा देश के कुल 736 गांवों को मिलने जा रहा है। जिसमें उत्तर प्रदेश  346, हरियाणा के 221, महाराष्ट्र के 100, मध्य प्रदेश के 44, उत्तराखंड के 50 और कर्नाटक के 2 गांव शामिल हैं। वहीं, महाराष्ट्र को छोड़कर बाकी सभी राज्यों में संपत्ति संपत्ति कार्ड का फिजिकल स्वरूप एक दिन में मिल जाएगा, लेकिन बाकी सभी राज्यों में संपत्ति कार्ड की फिजिकल कॉपी एक दिन बाद ही मिलेगी।

मिलेंगे इसके कई फायदे 
इस संपत्ति कार्ड के एक नहीं बल्कि अनेकों फायदे हैं। इस संपत्ति कार्ड के जरिए आपको लोन आदि सहित अन्य वित्तीय सुविधाएं मिल पाएंगी। आज इस योजना का लाभ देश के कई संपत्ति मालिकों को मिलने जा रहा है। पीएम  मोदी आज इस योजना का ऐलान करेंगे। इस खास मौके पर पंचायती राज मंत्री भी शामिल होंगे। इस कार्यक्रम की शुरूआत सुबह 11 बजे होगी।

‘संपत्ति कार्ड’ होता क्या है 
बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस योजना का ऐलान 24 अप्रैल 2020 को किया था। इस योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को ‘रिकॉर्ड ऑफ राइट्स’ देने के लिए संपत्ति कार्ड वितरित करना है। इस योजना का क्रियान्वयन 4 वर्ष में किया जाएगा। इस योजना को 2020 से लेकर 2024 तक पूरा किया जाएगा। इस योजना के तहत  6.62 गांवों को कवर किए जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। ये भी पढ़े :हमें मिलकर लड़ना होगा..कोरोना के खिलाफ जंग में पीएम मोदी ने मांगा आम जनता का साथ