आज फिर से आमने-सामने होंगे चीन और भारत, इन मसलों को लेकर गरमा सकता है मामला!

84

भारत और चीन के बीच हालात कैसे चल रहे हैं यह तो परिलक्षित है ही। स्थिति की संवेदनशीलता को भांपते हुए लगातार इस विवाद को खत्म करने का प्रयास किया जा रहा है। मगर ड्रैगन की स्थिति अब भरोसे के लायक नहीं रह गई है। उसकी एक तरफ तो वार्ता का सेतु है, मगर उसके दूसरे तरफ ही उसकी नापाक चालें भी है, जिसे वो लगातार धरातल पर उतारने की दिशा में अमादा नजर आ रहा है। फिलहाल इस यथास्थिति को बदलने की कोशिश लगातार जारी है। इसी कड़ी में आज BRICS देशों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की बैठक होने जा रही है। यह बैठक वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से होगी।

बताया जा रहा है कि इस बैठक में भारत के सुरक्षा सलाहकार और चीन के सुरक्षा सलाहकार आमने सामने होंगे। अब ऐसी स्थिति में जब भारत और चीन के बीच विवाद अपने परवान पर है, तो इस बैठक पर सभी निगाहें टिकी हुई नजर आ रही है। इस बात को लेकर चर्चा अपने शबाब पर है कि इन दोनों ही देशों के सुरक्षा सलाहकारों के बीच किन मसलों को लेकर वार्ता होने जा रही है। इससे पहले केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और केंद्रीय विदेश मंत्री एस जयशंकर की चीन के अपने समकक्षों के साथ इन मसले पर वार्ता हो चुकी है। अब दोनों ही देशों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मुखातिब होने जा रहे हैं तो ऐसी स्थिति में  इस बात की चर्चा अपने शबाब है कि इनके बीच होने वाली बैठक का क्या नतीजा रहा है।

यह बात तो सर्वविदित है कि भारत और चीन इस मसले के समाधान के लिए किसी तीसरे पक्ष के सहयोग के पक्षधर में नहीं है। वह इस मसले को पारस्परिक वार्ता के जरिए सुलझाना चाहते हैं। वहीं, आज होने जा रही बैठक में किन मसलों को लेकर वार्ता होगी इसका एजेंडा काफी पहले ही तय हो चुका है।  ‘BRICS देश आज की बैठक में वैश्विक, क्षेत्रीय और राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर पैदा हुए खतरों और चुनौतियों पर बहस करेंगे.’ रूस के सिक्योरिटी काउंसिल के सेक्रेटरी निकोलाई पैट्रूशेव इस बैठक का प्रतिनिधित्व करेंगे। ये भी पढ़े :भारत चीन सीमा विवाद पर पाकिस्तान की दखलंदाजी? पूर्वी लद्दाख में चीनी लड़ाकू विमान ने भरी उड़ान