कोरोना महासंकट में भारत की मदद के लिए इन 14 देशों ने बढ़ाए हाथ, स्वास्थ्य उपकरणों सहित दी यह सामग्री

भारत में कोरोना महामारी (Corona Epidemic) महासंकट से परेशान है। वहां के हाल बेकाबू होते दिख रहे है। देश की इस गंभीर परिस्थिति को देखते हुए कई देशों ने हेल्प के लिए हाथ बढ़ाया है और इन देशों से अब तक स्वास्थ्य उपकरणों वाले 17 कंसाइनमेंट भारत पहुंच भी चुके हैं। भारत सरकार ने मंगलवार को इस बारे में जानकारी दी। ये सारा माल दुनिया के 14 अलग-अलग देशों से आया है।

इसे भी पढ़ें-मीनाक्षी शेषाद्रि का हुआ निधन? सोशल मीडिया पर वायरल हुई खबर

कोरोना काल से भारत को बचाने के लिए 24 अप्रैल से 2 मई के बीच भारत को  14 देशों से जरूरी चिकित्सीय उपकरणों वाले 17 कंसाइनमेंट मिले हैं। इस बात की जानकारी खुद सरकार ने दी है। स्वास्थ्य संबंधी ऑक्सीजन कॉन्सनट्रेटर्स, मेडिकल ऑक्सीजन सिलेंडर, वेंटीलेटर, ऐंटी-वायरल दवा, कोविड जांच के लिए रैपिड किट, पल्स ऑक्सीमीटर, एन95 मास्क और पीपीई किट शामिल हैं।

राजधानी के अस्पतालों में भेजी सामग्री

भारत को सबसे पहले यूनाइटेड किंगडम से 24 अप्रैल को कंसाइनमेंट मिला था। इसके तहत यूके ने 95 ऑक्सीजन कॉन्सनट्रेटरस्, 20 वेंटीलेटर सहित कई अन्य उपकरण भी भेजे थे। यूनाइटेड द्वारा भेजे गए उपकरण राजधानी दिल्ली के अलग-अलग हॉस्पिटल में भेजे गए है।

इसके बाद सिंगापुर ने 28 अप्रैल को 256 ऑक्सीजन सिलेंडर भेजे। सरकारी अधिकारियों के अनुसार, सिंगापुर से मिले ऑक्सीजन सांद्रकों को भुवनेश्वर, पटना, रायपुर और रांची के एम्स अस्पतालों में बराबर बांटा गया।

रूस ने भी भारत को ऑक्सीजन कॉन्सनट्रेटर्स, लंग वेंटीलेटर, बेडसाइड मॉनिटर और ऐंटी वायरल दवा Favipiravir की कम-से-कम 2 लाख पैकेट भेजे।

भारत की मदद के लिए रोमानिया जैसे देश में भी देश को 75 ऑक्सीजन सिलेंड और 80 ऑक्सीजन कॉन्सनट्रेटर भेजे हैं, जिन्हें दिल्ली के लेडी हार्डिंग, सफदरजंग और एम्स जैसे हॉस्पिटल्स में भेजा गया।

इनके अलावा संकट के समय में भारत को अमेरिका, यूएई, आयरलैंड, थाइलैंड, जर्मनी, फ्रांस, उज्बेकिस्तान और ताइवान ने भी मदद भेजी है।

सरकार ने बताया है कि अभी तक भारत को सबसे अधिक माल अमेरिका और यूएई ने भेजा है। अमेरिका ने 7 लाख 14 हजार 301 जांच किट, सवा लाख रेमडेसिविर वायल, लगभग 10 लाख एन95 मास्क भेजे हैं तो वहीं यूएई ने 480 वेंटिलेटर, 17 लाख से ज्यादा मास्क और सैकड़ों-हजारों पीपीई किट्स भेजे हैं।

इसे भी पढ़ें-बंगाल पर बयान से कंगना का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड, नियमों के उल्लंघन पर ट्विटर ने कही ये बात

 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,092,598FansLike
5,000FollowersFollow
5,023SubscribersSubscribe

Latest Articles