J&K: हिजबुल की चिट्ठी से नेताओं में दहशत, खुलेआम दी जान से मारने की धमकी

138

आतंकी सरगना हिजबुल मुजाहिद्दीन ने एक बार फिर अपनी जहरीली जुबान से जहर उगला है। इस बार हिजबुल ने जम्मू-कश्मीर के नेताओं को अपना शिकार बनाया है। दरअसल हिजबुल मुजाहिद्दीन ने खास चेतावनी देते हुए कहा कि वह राजनीति से दूर रहें, नहीं तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहें। हिजबुल ने यह बातें एक ऊर्दु चिट्ठी के जरिए कही हैं। शनिवार को कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष रमण भल्ला को उनके पार्टी मुख्यालय में ये चिट्ठी मिली थी. चिट्ठी मिलने के बाद भल्ला के दफ्तर में सनसनी का माहौल बन गया, उन्होंने इस धमकी की शिकायत पुलिस में दर्ज करवाई है।

ये भी पढ़ें:-जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, तीन आतंकी ढेर, एक जवान घायल

हिजबुल की चिट्ठी में लिखा है, ‘अगर आप सियासी गतिविधियां छोड़ देंगे तो हम आपको माफ करने की कोशिश करेंगे. हम किसी को बिना बताए नुकसान नहीं पहुंचाते हैं, इसलिए हम आपको चेतावनी दे रहे हैं. अगर नहीं माने तो अंजाम बेहद बुरा होगा.’ धमकी भरा पत्र मिलने के बाद पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच शुरू कर दी है. कहा जा रहा है कि पत्र में कई बड़े नेताओं के नाम शामिल हैं।

इस चिट्ठी की शिकायत पर पीर मीठा पुलिस स्टेशन के SHO अनायत अली ने बताया कि ये चिट्ठी जम्मू और कश्मीर के कांग्रेस उपाध्यक्ष और पूर्व मंत्री, रमन भल्ला को लिखी गई है। अली के मुताबिक इस चिट्ठी में कांग्रेस, बीजेपी और दूसरी पार्टियों के नेताओं के भी नाम लिखे थे. कहा जा रहा है कि हिज़बुल मुजाहिद्दीन ने नेताओं को जान से मारने की धमकी दी है। बहरहाल जम्मू-कश्मीर पुलिस इस चिट्ठी को लेकर सक्रिय हो गई है।

ये भी पढ़ें:-J&K शोपियां में हुई जबरदस्त मुठभेड़, सुरक्षाबलों ने 4 आतंकियों को किया ढ़ेर, तलाशी अभियान तेज