चीन के खिलाफ जंग में भारत को इन 4 देशों ने दी मजबूती, जल्द पहुंचाएंगे हथियारों का जखीरा

0
7605
4 countries will give strength of military power to India

भारत (India) और चीन (China) के जवानों के बीच 15 जून की रात हिंसक झड़प हुई थी. इसी के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव काफी बढ़ चुका है. दोनों देशों की सेनाएं पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में तैनात हैं. मौजूदा हालातों को देखते हुए ऐसा लग रहा है मानो कभी भी जंग छिड़ सकती है. हालांकि, भारत और चीन के बड़े अधिकारी आपसी बातचीत से ही इस मामले को सुलझाने की कोशिश कर रहे हैं. लेकिन चीन फिर भी सीमा पर अपने सैनिकों के साथ हथियारों की संख्या भी बढ़ा रहा है. ऐसे में भारत को भी भारी सैन्यबल की तैनाती करनी पड़ रही है.

कोरोना महामारी (Corona epidemic) के समय से ही चीन चारों तरफ से घिरा हुआ है. कई देश इस समय चीन का कड़ा विरोध जता रहे हैं और भारत में तो चीन का जवाब देने के लिए चीनी सामानों पर रोक लगाई जा रही है. लोग खुद ही आगे आकर चीनी सामानों का त्याग कर रहे हैं. भारत और चीन के तनाव को देखते हुए अब कई ताकतवर देशों ने आगे आकर भारत की सैन्य शक्ति को मजबूत करने की कोशिश की है और जल्द से जल्द हथियार मुहैया कराने की बात कही है.

7,560 करोड़ का नया सौदा
फ्रांस ने भारत को अगले महीने यानि जुलाई में राफेल लड़ाकू विमान देने का वादा किया है और इजरायल ने एयर डिफेंस सिस्टम भारत को देने का फैसला किया है. जबकि शक्तिशाली देश अमेरिका ने भारत को तोप में इस्तेमाल होने वाले गोलाबारूद देने का फैसला लिया है. भारत को मजबूती प्रदान करने के लिए रूस ने भी आगे आकर आधुनिक हथियार और गोला बारूद देने का वादा भारत से किया है. कहा जा रहा है कि, रूस से भारत का करीब 7,560 करोड़ का नया सौदा होने जा रहा है.

चीन ने तैनात किए एयर डिफेंस सिस्टम
मालूम हो कि, बढ़ते तनाव के बीच सीमा पर चीन ने S-400 एयर डिफेंस सिस्टम तैनात किया है और सैनिकों की संख्या भी बढ़ा दी है. इसी वजह से अब पावरफुल देश भारत की मदद को आगे आए हैं और जल्द से जल्द हथियारों का जखीरा पहुंचाने का वादा किया है. वहीं अमेरिका तो काफी वक्त से भारत की मदद कर रहा है. जी हां दोनों देशों के तनाव को देखते हुए और चीन के झूठी बातों का पर्दाफाश करने के लिए अमेरिका की तरफ से लगातार खुफिया जानकारी और सैटेलाइट तस्वीरें भारत को भेजी जा रही हैं और इन्हीं तस्वीरों से खुलासा हुआ है कि, चीन ने सीमा पर सैन्य ताकत के साथ हथियार बढ़ा दिए हैं.

ये भी पढ़ेंः- कंगना रनौत ने खोला चीन के खिलाफ मोर्चा, फैंस से की अपील, Video ताबड़तोड़ वायरल