Narendra Modi

पीएम नरेंद्र मोदी के कैबिनेट विस्तार काफी सुर्ख़ियों में हैं। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में यह पहला कैबिनेट विस्तार है। बताया जा रहा है मोदी सरकार में कई मंत्रियों के पद खाली हैं इसलिए ऐसा माना जा रहा है कि इस बार होने वाले कैबिनेट विस्तार में सर्बानंद सोनोवाल, सुशील मोदी संत लगभग 27 नेताओं को शामिल किया जा सकता है। उम्मीद है कि मंत्रिमंडल के बदलाव में सोशल इंजीनियरिंग का भी काफी ध्यान रखा जाएगा।

ऐसा मान जा रहा है कई बड़े नेताओं और पूर्व में राज्यों की कमान संभाल चुके कई दिग्गजों के भी मंत्रिमंडल में शामिल होने की संभावना है। बताया जा रहा है कि असम के पूर्व सीएम सर्बानंद सोनोवाल, महाराष्ट्र के पूर्व सीएम नारायण राणे, बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी, मध्यप्रदेश के पूर्व कांग्रेसी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया, पश्चिम बंगाल बीजेपी के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय और भाजपा के संगठन महासचिव भूपेंद्र यादव भी केंद्र सरकार में शामिल होने की संभावना है।

साथ ही बीजेपी प्रवक्ता जफ़र इस्लाम, सांसद वरुण गांधी, राज्यसभा सांसद अनिल जैन, ओडिशा से सांसद अश्विनी वैष्णव, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बैजयंत जय पांडा, पूर्व रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी, यूपी भाजपा के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह का नाम भी शामिल है। बताया जा रहा है कि यूपी विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी अपनी सहयोगी अपना दल की अनुप्रिया पटेल को भी केंद्रीय मंत्रिमंडल में ला सकती है।

होने वाले कैबिनेट विस्तार में बीजेपी की सहयोगी जदयू भी सूची में शामिल हो सकती है। जदयू कोटे से आर सी पी सिंह और संतोष कुमार मंत्री बनाए जाने की संभावना हैं। हाल ही में चिराग पासवान को हटाकर लोजपा के संसदीय दल के नेता बने पशुपति पारस भी शामिल हो सकते हैं। मंत्रिमंडल विस्तार में दिवंगत नेता गोपीनाथ मुंडे की बेटी और महाराष्ट्र के बीड से सांसद प्रीतम मुंडे भी शामिल हैं।

होने वाले कैबिनेट विस्तार में अधिक से अधिक राज्यों को शामिल करने पर विचार हो रहा है। गुजरात से बीजेपी अध्यक्ष सी.आर. पाटिल और अहमदाबाद पश्चिम से सांसद किरीट सोलंकी, कर्नाटक से राज्यसभा सांसद राजीव चंद्रशेखर, हरियाणा से सिरसा की सांसद सुनीता दुग्गल, राजस्थान से पूर्व केंद्रीय मंत्री पी.पी. चौधरी, युवा सांसद राहुल कस्वां और सीकर के सांसद सुमेधानंद सरस्वती शामिल हो सकते हैं। वहीं दूसरी तरफ दिल्ली से सांसद मीनाक्षी लेखी और लद्दाख के सांसद जामयांग त्सेरिंग नामग्याल का नाम भी शामिल है।

इसे भी पढ़ें:- यूपी के इस जिले में सपा और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प, जमकर चले लात-घूंसे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here