विश्व स्वास्थ्य संगठन ने दी चेतावनी, कहा- अगर ऐसा नहीं किया तो कभी खत्म नहीं होगा कोरोना

coronavirus vaccine

दुनिया के कई देशों में कोरोना के खिलाफ वैक्सीनेशन अभियान चलाए जा रहे हैं, भारत में भी अभियान का आज चौथा दिन है। वैक्सीनेशन से इस महामारी को जल्द से जल्द छुटकारा मिल सकेगा। वहीं दूसरी तरफ कुछ ऐसे भी देश हैं जहां अभी तक वैक्सीन नहीं पहुंच सकी है। इसी कारण वहां महामारी के और फैलने का खतरा बना रहता है। इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस अधानोम ने सोमवार को कहा है कि जिस प्रकार से कोरोना वैक्सीन पाने के लिए होड़ लगी है, ऐसा अनुमान है कि दुनिया के गरीब देश पिछड़ जाएंगे। उन्होंने आगे कहा कि अमीर देशों और गरीब देशों के बीच असमानता की दीवार है और ये वैक्सीन के वितरण में एक बड़ी बाधा बन सकती है।

इसे भी पढ़ें:-भारत में अब तक 3.80 लाख लोगों को लगा टीका, 580 लोगों में नजर आया साइड इफेक्ट

उन्होंने बताया, ‘दुनियाभर की सरकारें अपने स्वास्थ्यकर्मियों और बुजुर्गों को पहले टीका देना चाहती हैं, ये अच्छी बात है, मगर ये बिल्कुल सही नहीं है कि अमीर देशों के युवाओं और स्वस्थ व्यक्तियों को पहले टीका मिल जाए और गरीब देशों के स्वास्थ्यकर्मियों और बुजुर्गों को ये मिल ही न पाए।

टेड्रोस अधानोम ने अपने ब्यान में कहा कि मौजूदा वक्त में कम से कम 49 अमीर देशों में लोगों को टीके की 3.9 करोड़ खुराक दी गई है, तो वहीं गरीब देशों में लोगों को टीके की केवल 25 खुराक ही मिली हैं। उन्होंने बताया कि इन आंकड़ों को देखकर ही लगता है कि दुनिया नैतिक विफलता के कगार पर है और सबसे गरीब देशों के लोगों को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है।

टेड्रोस अधानोम ने चेतावनी देते हुए कहा कि वैक्सीन जल्दी और अधिक खुराक पाने की होड़ में दुनिया के गरीब देशों के लोग खतरे में होंगे और इससे इस कारण ये महामारी को पूरी तरह खत्म नहीं होगा। उन्होंने सभी देशों से अपील की है कि साल के पहले 100 दिनों के भीतर दुनिया के सभी स्वास्थ्यकर्मियों और बुजुर्गों को कोरोना वैक्सीन मिल जानी चाहिए।

इसे भी पढ़ें:- अर्नब की लीक चैट पर रवीश कुमार ने किए मजेदार सवाल, लोगों ने दी प्रतिकिया प्रतिक्रिया