Categories
देश

BULLI BAI APP पर मुस्लिम महिलाओं की बोली लगाने वाली महिला और उसका साथी ऐसे हुआ गिरफ्तार

दिल्ली। सोशल मीडिया पर सक्रिय 100 जानी-मानी मुस्लिम महिलाओं के खिलाफ उत्तराखंड की एक महिला ने अपने साथी के साथ मिलकर BULLI BAI APP से साजिश रची है। साजिश रचने वाली महिला और उसके दोस्त ने BULLI BAI APP के माध्यम से मुस्लिम महिलाओं को लेकर अपमानजनक और अभद्र बातें लिखी और उनकी बोली लगाने जैसा घिनौना काम किया। पुलिस ने शातिर महिला के साथी को भी बेंगलुरु से गिरफ्तार कर लिया है। BULLI BAI APP कांड के दूसरे आरोपी का नाम विशाल कुमार है। विशाल 21 साल का एक इंजीनियरिंग छात्र है। विशाल बुल्ली बाई एप्प के जरिये साजिश की मुख्य आरोपी महिला का दोस्त है। उत्तराखंड की रहने वाली मुख्य आरोपी महिला और विशाल कुमार दोनों एक दूसरे को पहले से जानते हैं। उस शातिर को महिला को पहले ही हिरासत में लिया गया है। मुंबई पुलिस ने साजिशकर्ता महिला को ट्रांजिट रिमांड पर लेने के लिए उत्तराखंड की अदालत में पेश करेगी। बताया जा रहा है साजिश रचने वाली महिला और विशान दोनों एक दूसरे को जानते हैं। वे दोनों फेसबुक और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर दोस्त हैं। आसानी से दोनों लिंक होने की पुष्टि भी जांच में हो गई।

Muslim women

नाम बदलकर साजिश

BULLI BAI APP कांड की मुख्य आरोपी महिलो तीन खाते संचालित कर रही थी। जबकि उसका शातिर दोस्त विशाल कुमार ने खालसा सुप्रीमिस्ट के नाम से खाता खोला था। लोगों को गलतफहमी हो और वो खालसा से मतलब ये निकालें कि इस साजिश के पीछे कोई सिख व्यक्ति है। BULLI BAI APP के जरिये साजिश रचने वाले दोनों आरोपियों की साजिश को मुंबई पुलिस ने नाकाम कर दिया। 100 मुस्लिम महिलाओं के खिलाफ ये साजिश बेहद शातिराना तरीके से रची गई थी. जिसके पीछे इन दोनों की नफरत और गंदी सोच थी। उत्तराखंड से पकड़ी गई महिला को मुंबई लाया जा रहा है। आरोपी विशाल कुमार को कोर्ट में पेश किया गया है।

BULLI BAI APP को लेकर दिल्ली पुलिस की कार्रवाई

दिल्ली पुलिस ने ट्विटर से बुल्ली बाई एप्प से संबंधित कंटेंट हटाने को कहा है। दिल्ली पुलिस ने ट्विटर से उस अकाउंट के बारे में जानकारी मांगी है, जिसने सबसे पहले बुल्ली बाई को लेकर ट्वीट किया था। दिल्ली पुलिस ने गिटहब से बुल्लीबाई बनाने वाले के बारे में भी जानकारी मांगी है। यह केस अब दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल की साइबर यूनिट को ट्रांसफर किया गया है।

क्या है BULLI BAI APP

BULLI BAI APP नाम से एक एप्प बनाया गया है। उस ऐप पर मुस्लिम महिलाओं की बोली लगायी जा रही है। उनके खिलाफ नफरत फैलाई जा रही है और गंदी बातें लिखी जा रही हैं।

सौ महिलाओं को बनाया निशाना

BULLI BAI APP पर उन सौ महिलाओं को टारगेट किया गया है जो ट्विटर और फेसबुक पर दमदार मौजूदगी रखती हैं। इन पीड़िताओं में मीडिया समेत दूसरे फील्ड में काम करने वाली महिलाएं शामिल हैं। महिलाओं ने शिकायत की है कि उस घटिया ऐप्प और प्लेटफॉर्म पर उनके नाम और फोटो का इस्तेमाल किया जा रहा है। इस ऐप की करतूत पर कई लोगों ने सोशल मीडिया पर नाराजगी जताई है। इस मामले में एक महिला पत्रकार की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने केस दर्ज किया है।

दिल्ली साइबर सेल जांच में जुटी

दिल्ली पुलिस के एडिशनल कमिश्नर चिन्मय बिश्वास ने बताया कि इस संबंध में 1 जनवरी की शाम को साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के साइबर थाने में मामला दर्ज किया गया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए मामला साइबर सेल को दिया गया है। पुलिस ने होस्टिंग प्लेटफार्म से सम्पर्क किया है। जब जवाब आएगा तो जो भी इंटरनेशनल प्रोटोकॉल होते हैं, उसके तहत आगे की कार्रवाई की जाएगी। होस्टिंग प्लेटफार्म विदेशी है। इसलिए जो भी लीगल प्रोसेस है, हम लोग उसी के जरिये काम कर रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः-दिल्ली: पॉश इलाके के लड़के सोशल मीडिया पर कर रहे थे रेप की प्लानिंग, ऐसे सामने आया पूरा मामला!