मोदी सरकार के मंत्री ने कहा,’धारा 370 का खात्मा होना, सरकार की बड़ी उपलब्धि, अब अगला एजेंडा Pok’

0
138
Loading...

मोदी सरकार के केंद्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह ने सरकार के दूसरे कार्यकाल के 100 दिन की उपलब्धियों को पेश करते हुए कहा कि ‘,हमारी सरकार ने इन 100 दिनों में अनेक उपलब्धियों को प्राप्त किया है, लेकिन इन सबसे अहम और सर्वोत्तम उपलब्धि जो है, वो है धारा 370 का खात्मा होना। जिसने जम्मू-कश्मीर को देश के बाकी राज्यों से बांटने का काम किया था, हमारी सरकार ने उसका खात्मा करने काम किया।  ये भी पढ़े :घाटी पर डोभाल का बड़ा बयान, जाने धारा 370 हटने के एक महीने बाद कैसा है हाल

इसके साथ ही उन्होंने अपनी सरकार के भविष्य का खाका पेश करते हुए कहा कि ‘अब हमारा मुख्य उद्देश्य पीओके को भारत का अभिन्न बनाना है। अब अगर पाकिस्तान के साथ किसी भी मसले पर भारत की वार्ता होगी तो वो होगी पीओके पर। हमारी सरकार पीओके को भारत का अभिन्न बनाने के लिए वचनबद्ध है। हम किसी-भी कीमत पर इस काम को अंजाम देकर ही रहेंगे’।

इस बीच, उन्होंने पीवी नरसिम्हा राव सरकार का जिक्र करते हुए कहा कि 1994 में नरसिम्हा सरकार ने भी पीओके को भारत का अभिन्न बनाने के बाबत सर्वसम्मित से संकल्प पारित किया था। अब हमारी सरकार उसे अंजाम तक पहुंचाने के लिए तैयार है। और हम उस काम को किसी भी कीमत पर अंजाम देकर ही रहेंगे।

 

पूरी दुनिया ने भारत के इस रूख का समर्थन किया
ये बात तो सर्वविदित है कि 5 अगस्त को भारत सरकार द्वारा धारा 370 के खत्म करने के फैसले का, पूरी दुनिया ने एक सुर में समर्थन किया था। हालांकि, सरकार के इस फैसले के बाद पाकिस्तान बुरी तरह बौखला गया था, और वो बौखलाहट अभी-भी जारी है। लेकिन, इसे हम पाक के लिए अफसोस ही कहेंगे कि उसकी ये बौखलाहट कामयाब नहीं हो पाई। उसने भारत सरकार के इस फैसले का जमकर विरोध किया। इतना ही नहीं, वो इस मसले को लेकर यूएन भी गया, लेकिन यूएन ने पाक को इसे भारत का आंतरिक मसला बताते हुए छूछे हाथ लौटाना गवारा समझा। वहीं, चीन और पाकिस्तान को छोड़कर अन्य सभी देश, यहां तक की मुस्लिम देशों ने भी भारत सरकार के इस फैसले को भारत का आंतरिक मसला बताया है।

घाटी में हालात काबू में है
वहीं, भारत सरकार के इस फैसले का विरोध करने पर अमादा पाकिस्तान लगातार इस बात का हवाला संयुक्त राष्ट्र पर देता आ रहा कि वहां स्थिति भयावह बनी हुई है, लेकिन घाटी की तस्वीर पाक के इस बयान से निहायत मुख्तलिफ़ है। घाटी में पांबदियों के इतर कुछ भी नहीं है। वहीं, अब इंटरनेट की सुविधाओं को बहाल करने की बात भी कही जा रही है। इंटरनेट पर पांबदी महज झूठी अफवाहों पर अंकुश लगाने के बाबत लगाया गया है, ताकि स्थिति सामान्य बनी रहे। ये भी पढ़े :उर्मिला मातोंडकर ने धारा 370 हटाए जाने को लेकर दिया विवादास्पद बयान

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here