woman has returned home

आंध्र प्रदेश। आंध्रप्रदेश में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक महिला को मरी हुई समझकर परिवार वालों ने उसका अंतिम संस्कार कर दिया लेकिन 15 दिन बाद वह महिला वापस लौट आई जिसे देखकर सब चौंक गये। महिला को सही सलामत देख गांव के सभी लोग हैरान हो गये। वहीं कुछ लोग उसे भूत समझकर डर के भागने लगे।

कोरोना संक्रमित पाई गयी थी महिला 

मामला आंध्र प्रदेश प्रदेश के कृष्णा जिले जगगय्यापेटा इलाके का है। यहां की रहने वाली मुत्याला गिरिजम्मा नामक वृद्ध महिला पिछले दिनों कोरोना संक्रमित पाई गयी थी। इसके बाद घरवालों ने उन्हें इलाज के लिए विजयवाड़ा के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया था जहां पर डॉक्टरों में बाद में उनके परिजनों को बताया कि मुत्याला गिरिजम्मा की मौत हो गयी है। मुत्याला गिरिजम्मा के दामाद ने बताया कि उनके ससुर ने अस्पताल से उन्हें फोन करके बताया कि गिरिजम्मा की तबियत सुधार हो रहा है लेकिन इसके एक घंटा बाद फिर उनका फोन आया कि मुत्याला गिरिजम्मा तबियत अचानक से बिगड़ गई है। उन्होंने बताया कि करीब 12 बजे डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इसके बाद अस्पताल ने उनके ससुर को मुत्याला गिरिजम्मा के नाम का डेथ सर्टिफिकेट भी दिया। इसके बाद उन्होंने एक एम्बुलेंस में गिरिजम्मा के शव को ले जाकर अंतिम संस्कार भी कर दिया।

डॉक्टरों ने बरती लापरवाही 

इस मामले में गिरिजम्मा के पति कहते हैं कि बीते 15 मई को जब वह अस्पताल में भर्ती गिरिजम्मा के बेड के पास गए तो वह वहां नहीं मिली जिस पर उन्होंने गिरिजम्मा को ढूढ़ना शुरू किया। दरअसल अस्पताल स्टाफ ने उन्हें दूसरे बेड पर शिफ्ट कर दिया था। गिरिजम्मा के पति ने बताया कि जब गिरिजम्मा के बारे में डॉक्टरों से पूछा गया तो उन्होंने लापरवाही दिखाते हुए बताया कि उनकी मौत हो चुकी है। उनका शव, शव गृह में रखवा दिया गया है जाकर ढूंढ लो। इसके बाद गिरिजम्मा के परिजन शवगृह गये जहां उन्हें एक वृद्ध महिला का शव रखा दिखा जो हूबहू गिरिजम्मा जैसा दिख रहा था।

वही शव उन्हें सौंप दिया गया था। इसके बाद परिवारवालों ने गिरिजम्मा को मृत समझकर अस्पताल से मिले शव का अंतिम संस्कार भी कर दिया। अब करीब 15 दिन बाद बुधवार को जब गिरिजम्मा एक ऑटो रिक्शा से अपने घर आई तो उन्हें देखकर सब चौंक गये। यहां तक कि उनके घर वाले भी उन्हें देखकर हैरान हो गए। इस पर गिरिजम्मा ने बताया कि वह अस्पताल से स्वास्थ्य होकर लौटी हैं।

इसे भी पढ़ें:-15 दिनों तक जीवित बता कर परिजनों को अपडेट देते रहे डाॅक्टर, उधर पुलिस ने कर दिया था अंतिम संस्कार, अब होगी कार्रवाई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here