कोरोनिल पर छाए संकट के बादल, महाराष्ट्र सरकार ने इस वजह से लगाई रोक

Maharashtra

बाबा रामदेव की बनाई हुई दवा कोरोनिल फिर से विवाद में फंस गई है। अब महाराष्ट्र सरकार ने बाबा रामदेव की दवा कोरोनिल की बिक्री पर बैन लगा दिया है। महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने ट्वीट कर बाबा रामदेव की दवा पर रोक लगाई है। अनिल देशमुख ने  पतंजलि की ओर से निकाली गई दवा कोरोनिल के बारे में  कहा कि WHO और IMA जैसे स्वास्थ्य संगठनों से उचित प्रमाणीकरण के बिना कोरोनिल की बिक्री को महाराष्ट्र में अनुमति नहीं मिलेगी।

इसे भी पढ़ें-नशे के कारण पति बना हैवान, मुंह में कपड़ा ठूंस कर पत्नी को किया अधमरा

ट्वीट में कही ये बात

कोरोनिल को लेकर अनिल देशमुख ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, “पतंजलि की कोरोनिल दवा की बिक्री को महाराष्ट्र में WHO, IMA और अन्य संबंधित सक्षम स्वास्थ्य संस्थानों से उचित प्रमाणीकरण के बिना अनुमति नहीं दी जाएगी।”

इसके अलावा उन्होंने एक और ट्वीट कर कहा कि, “कोरोनिल के तथाकथित परीक्षण पर IMA ने सवाल उठाए हैं और WHO ने कोविद के उपचार के लिए पतंजलि आयुर्वेद को किसी भी प्रकार कि स्वीकृति देने से इंकार किया है। ऐसे में जल्दीबाज़ी में किसी भी दवा को उपलब्ध करवाना और दो वरिष्ठ केंद्रीय मंत्रियों द्वारा इसकी सराहना करना उचित नहीं है।”

बीते शुक्रवार को किया था लॉन्च

आपको बता दें कि रामदेव ने अपनी दवा कोरोनिल को बीते शुक्रवार को लॉन्च किया था। दवा की लॉन्चिग के दौरान केंद्रीय मंत्री नीतिन गडकरी और डॉ. हर्षवर्धन भी वहां पर थे। IMA ने रामदेव की इस दवा पर कई सवाल ला दिए हैं। लॉन्चिंग के दौरान डॉ. हर्षवर्धन भी शामिल थे, वो भी इसके कारण विवादों में आ गए हैं।  इसके पहले भी जब बाबा रामदेव ने इस दवा को लॉन्च किया था, तब भी काफी बवाल हुआ था। लॉन्चिंग के दौरान इस बाता का दावा किया गया था कि कोरोनिल को विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से दुनिया के 154 देशों में भेजने की अनुमति मिल गई है, लेकिन WHO ने इस बात का खंडन किया था।

इसे भी पढ़ें-लाल जोड़े में बेटी को किया विदा, कफन में शव को देख परिजन हुए बेहाल

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *