जाकिर नाइक ने भारत के खिलाफ उगला जहर, बोला- भाजपा से कैसे बदला लेना है ‘मुसलमानों’

247

दुनिया में मोस्ट वांटेड आतंकी के नाम से मशहूर जाकिर नाइक एक बार फिर भारत के खिलाफ जहर उगलता हुआ नजर आया है। दरअसल आतंकी जाकिर ने इस बार केरल को अपने निशाने पर लिया है। सूत्रों के अनुसार जाकिर भारत के मुसलमानों को हिंदूओं के खिलाफ भड़काने की पूरी तैयारी कर रहा है। जिसका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। बता दें कि हाल ही में आतंकी जाकिर नाइक ने एक वीडियो शेयर करते हुए कहा कि भारत के सभी मुसलमानों को केरल में जाकर अपनी एक पार्टी बनानी चाहिए और हिंदुओं के खिलाफ एकजुट होना चाहिए। शुक्रवार को इस वीडियो को आतंकी ने अपने फेसबुक अकाउंट से शेयर किया है, जिसमें उसने भारत के खिलाफ भड़काऊ भाषण देते हुए कहा कि भारतीय मुसलमानों को भाजपा सरकार के ‘उत्पीड़न’ का जवाब कैसे देना चाहिए। उस पर गौर करें। दरअसल, मलेशिया भागने के बाद जाकिर नाइक भारत और दुनियाभर में अपने आतंकी संगठनों तक सोशल मीडिया पर वीडियो के माध्यम से पहुंच बना रहा है, और भारत के मुसलमानों को भड़काने का सिलसिला लगातार जारी है।

ये भी पढ़ें:-ISI आतंकी अबु यूसुफ़ के घर बरामद हुई बम विस्फोटक सामग्री, यहां-यहां की थी धमाके की तैयारी

बता दें कि केरल कांग्रेस और वामपंथी शासन में आतंकियों का हब बन चुका है जिसका फायदा आतंकी जाकिर नाइक जैसे लोग उठाना चाहते हैं। इसलिए उसने भारत के मुसलमानों को भड़काते हुए हिंदूओं के खिलाफ साजिश रचने की कवायद शुरू की है। कुछ दिनों पहले ही संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि भारत के केरल और कर्नाटक प्रांत में इस्लामिक स्टेट के सहयोगी संगठन हिंद विलयाह के 150 से 200 आतंकी मौजूद हैं और हमला कर सकते हैं। केरल में ज़ाकिर नाइक को एक हस्ती के रूप में देखा जाता है शायद यही कारण है कि अपने वीडियो में इस भगोड़े आतंकी ने भारत के मुसलमानों को भड़काते हुए केरल जा कर हिंदुओं के खिलाफ एक होने की बात कही है।

हैरानी की बात है कि इस खूंखार आतंकी की तलाश कई देशों को है, लेकिन अभी भी इसके सोशल मीडिया अकाउंट बैन नहीं किए गए हैं। जिससे वह विवादास्पद बयान देकर मुसलमानों को भड़काने में जुटा है, और तबाही की नई साजिश रच रहा है। ऐसे में भारत सरकार को इस आतंकी पर एक्शन लेते हुए मलेशिया से बुलवाकर जेल की सलाखों के पीछे डाल देना चाहिए। चूंकि इस आतंकी का हाथ कई बम धमाकों में भी सामने आ चुका है, उरी हमला, पठानकोट, 26/11 जैसे हमलों का जाकिर नाइक मास्टमाइंड रह चुका है।

जाकिर नाइक की भारत के मुसलमानों को केरल चले जाने के पीछे एक वजह यह भी है चूंकि केरल में पिछले दस सालों के दौरान करीब दस हजार लड़कियों का धर्म परिवर्तन कराया गया। इसके अलावा केरल से युवकों के गायब होने की भी खबरें आती रही हैं जो बाद में जाकर इस्लामिक स्टेट जैसे आतंकी संगठन में शामिल हो जाते हैं। अपने भाषण में उसने बताया कि जो मुस्लिम अपने आप को बचाना चाहते हैं वे केरल चले जाए। नाइक ने कहा कि “सबसे अच्छा राज्य जो मैं सोच सकता हूं वह है केरल जो मुसलमानों के प्रति अधिक उदार है”।

मालूम हो कि केरल में हमेशा दो ही विचारधाराओं की सत्ता पर कब्जा रहा है। एक विचारधारा वामपंथियों की है, दूसरी विचारधारा कांग्रेस की है। इन दोनों ने ही मिल कर इस तरह से राज्य में इस्लामिक तुष्टीकरण किया है कि आज यह राज्य आतंकियों का हब बन चुका है। केरल की राजनैतिक हत्याएं इन्हीं तीनों के संगठन का नतीजा हैं। भारतीय सुरक्षा एजेंसियों की रिपोर्ट के मुताबिक, केरल के अब तक 98 महिला, पुरुष और बच्चे आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) में शामिल हो चुके हैं।

ये भी पढ़ें:-भड़काऊ प्रचार के जुर्म में जाकिर नाईक पर ब्रिटेन की कड़ी कार्रवाई, लाखों पाउंड का लगाया जुर्माना