आतंकियों की बनाई गुप्त सुरंग का जवानों ने किया पर्दाफाश, ड्रोन से हथियार गिराने की साजिश नाकाम

495

जम्मू-कश्मीर सीमा पर एक बार फिर से पाकिस्तान की नापाक हरकतों पर से पर्दा उठ गया है। खबर है कि पाकिस्तानी आतंकियों ने भारत में घुसपैठ करने के लिए सुरंग का सहारा लिया। हालांकि जम्मू-कश्मीर पुलिस ने आतंकियों की इस साजिश को नाकाम कर दिया। जम्मू-कश्मीर पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने पाकिस्तान की इस हरकत पर बोलते हुए कहा कि पाक अपने आतंकियों को भारत की सीमा में दाखिल कराने के लिए नई सुरंग का इस्तेमाल कर रहा है, इतना ही नहीं ड्रॉन के जरिए से आतंकियों को हथियार भी सप्लाई कर रहा है। हालांकि सेना और पुलिस की संयुक्त टीम ने पाकिस्तान के इस मंसूबे को कामयाब नहीं होने दिया। सिंह ने कहा कि पाक भूमिगत सुरंगों का इस्तेमाल कर भारत में आतंकी गतिविधियों को बढ़ाना चाहता है।

ये भी पढ़ें:-पुलवामा 2 की तैयारी कर रहे थे आतंकी, बालाकोट एयरस्ट्राइक से डरे मसूद अजहर ने रुकवाया

हाल ही में संबा जिले के गालर गांव में खोजी गई 170 मीटर लंबी सुरंग का निरीक्षण करने के बाद पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि पाकिस्तान लगातार इन इलाकों से आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा दे रहा है, पुलिस निरीक्षण में देखी गई सुरंग से ऐसे कयास लगाए जा सकते हैं, कि आतंकी दहशत के लिए कोई और शहर तलाश रहे थे। हालांकि पुलिस कार्यवाई में पाक की इस साजिश का पर्दाफाश हो पाया।

बताया जा रहा है कि पाकिस्तान से निकलने वाली इस 20-25 फीट गहरी इस सुरंग का पता BSF ने 28 अगस्त को लगाया था.  डीजीपी ने कहा कि यह सुरंग 2013-14 में चनारी में पाई गई सुरंग जैसी है. सिंह ने कहा कि हम जांच कर रहे हैं, लेकिन शुरुआती संकेतों से यह पता चलता है कि पाकिस्तान द्वारा पहले भी आतंकियों को भारत भेजने के लिए इस

सुरंग का इस्तेमाल किया गया था. उन्होंने यह भी कहा कि इस तरह की और भी सुरंगों की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता. बीएसएफ और पुलिस के जवान संभावित सुरंगों का पता लगाने के लिए अभियान चला रहे हैं.

ये भी पढ़ें:-J&K हिजबुल की चिट्ठी से नेताओं में दहशत, खुलेआम दी जान से मारने की धमकी