भाषा की मर्यादा भूल गए शिवसेना वाले, कंगना के बाद अब अर्णब को कहा, ‘हरामखोरी कर रहे हो’

153

आज और पहले की सियासत में काफी कुछ बदलाव आ चुका है। लेकिन बदलाव का यह स्तर यहां तक पहुंचा जाएगा इसके बारे में कभी नहीं सोचा गया था। बदलाव का यह स्तर अब इतना नीचे  गिर जाएगा कि अब सियासी नुमाइंदे अपनी भाषा की मर्यादा को ताक पर रखने से भी गुरजे नहीं करेंगे। यह भी कभी नहीं सोचा गया था। शिवसेना वालों के भी सुरत-ए-हाल आज कल कुछ ऐस ही बने हुए हैं। शिवसेना वाले अब आए दिन वतनपरस्ती की आड़ में भाषा का प्रतिदिन चीरहरण कर रहे हैं। अब इसी बीच शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय का सहारा लेकर देश के वरिष्ठ पत्रकार अर्णब गोस्वामी पर यह आरोप लगाया है कि वह राजनीतिक एजेंडों के तहत ‘हरामखोरी’ कर रहे हैं।

ये भी पढ़े :सोनिया गांधी पर टिप्पणी करना पत्रकार अर्णब गोस्वामी को पड़ा भारी! आधी रात अज्ञात लोगों ने किया हमला

सामना के संपादकीय में लिखा गया है कि राजनीतिक एजेंडे के तहत देशद्रोही पत्रकार और सुपारीबाज कलाकारों के राजद्रोह का समर्थन करना भी हरामखोरी ही है। बता दें कि सामना ने अपने संपादकीय में बिना नाम लिए अर्णब गोस्वामी पर निशाना साधा है। सामना में लिखा गया है कि यह लोग अब माटी से बेईमानी कर रहे हैं। सामना में लिखा गया है कि जो लोग महाराष्ट्र के बेईमानों के साथ खड़े हैं। उन्हें  106 शहीदों की बद्दुआ लगेगी। राज्य की जनता इन लोगों को कभी  माफ नहीं करेगी।  वहीं, सामना में लिखा गया है कि  इन लोगों ने हिंदुत्व और 106 शहीदों का अपमान किया है। उधर, कंगना के संदर्भ में कहा गया है कि अब हालात ऐसे बन चुके हैं कि ऐसे लोगों को सरकार विशेष सुरक्षा मुहैया करा रही है।

कंगना पर भी साधा गया निशाना 
इसके साथ ही सामना के संपादकीय की बात महज देश के वरिष्ठ पत्रकार अर्णब गोस्वामी पर आकर ही खत्म नहीं हुई  बल्कि जुबानी हमलों का यह बाण अभिनेत्री कंगना रनौत पर भी आकर टिका। सामना में कंगना द्वारा मुंबई की तुलना  पाक अधिकृत कश्मीर से करने को लेकर कहा  गया कि मुबई किसका है? यह महाराष्ट्र की राजधानी है। यह देश के सबसे बड़े आर्थिक लेन-देन का केंद्र है। मुंबई हिंदुस्तान का है। मुंबई ईमान से रहने वाले हर लोगों का है। सामना में कहा गया कि मुंबई की तुलना पाक अधिकृत कश्मीर से करना और मुंबई पुुलिस को माफिया बताना यह कुछ भी नहीं बल्कि बिगड़ी हुई मानसिकता का रूप है। ये भी पढ़े :कुणाल कामरा के सवालों पर क्यों चुप थे अर्णब गोस्वामी, अदनान सामी ने किया खुलासा