बड़ी खबरः 1 सितंबर से खुल सकते हैं स्कूल, केंद्र सरकार ने तैयार किया पूरा प्लान

1267
Schools can open from September 2020

चीन से फैले कोरोना वायरस (Corona virus) ने पूरे विश्व में आतंक मचाया हुआ है. भारत में संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन (lockdown) लगाया गया था लेकिन अब धीरे-धीरे चरणों में लॉकडाउन खोला जा रहा है. जिसमें जनता को कई गतिविधियों में छूट भी दी जा रही है. लेकिन स्कूल और कॉलेज कब खुलेंगे इसकी तस्वीर अब तक साफ नहीं हो पाई है. हालांकि, सरकार ने ऑनलाइन ही स्कूलों को पढ़ाई कराने को कहा है लेकिन बच्चों से लेकर पैरेंट्स के मन में ये सवाल है कि, आखिर किस दिन से सरकार स्कूल खोलेगी. खबर है कि, अब केंद्र सरकार स्कूल खोलने पर विचार कर रही है.

अगले महीने से खुलेंगे स्कूल
इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अगले महीने यानि 1 सितंबर से केंद्र सरकार स्कूल खोलने पर विचार कर रही है. सरकार की योजना सितंबर से नवंबर के बीच सभी स्कूलों को चरणबद्ध तरीके से खोलने की है. सबसे पहले 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए स्कूल खोला जाएगा और उसके बाद चरणों के अनुसार बाकी कक्षा के छात्र-छात्राओं के लिए स्कूल खोले जाएंगे. योजना के मुताबिक, अगर एक स्कूल में चार सेक्शन होते हैं तो शुरुआत में एक दिन में सिर्फ 2 सेक्शन में ही पढ़ाई होगी और इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग पर जोर दिया जाएगा.

शिफ्ट में चलेंगी क्लासेज
अगर सितंबर से स्कूल खोले जाते हैं तो इसमें कई सारे बदलाव होंगे. यानि जिस तरह पहले स्कूलों में पढ़ाई होती थी उस तरह नहीं होगी बल्कि कई सारे नए नियम लागू होंगे. रिपोर्ट के मुताबिक, स्कूल खोले जाने पर पढ़ाई 5-6 घटे नहीं बल्कि सिर्फ 2 से 3 घंटे हो सकती है. इसके अलावा क्लासेज शिफ्ट में चलेंगी और बीच में 1 घंटे का वक्त खाली रखा जाएगा और उस बीच क्लासेज को सैनिटाइज किया जाएगा. सरकार स्कूल खोलने पर विचार कर रही है लेकिन फिलहाल प्राइमरी और प्री-प्राइमरी स्तर के छात्रों के लिए स्कूल नहीं खोले जाएंगे. इस पर सरकार सहमत नहीं है क्योंकि, इतने बच्चों में संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता है इसलिए इनके लिए ऑनलाइन क्लासेज की चलेंगी. केंद्र सरकार जो भी फैसला लेगी उसके बाद राज्य की सरकारें अपने अनुरूप उसमें बदलाव कर सकती हैं. सरकार की तरफ से अगस्त के अंत तक स्कूलों को लेकर कोई फैसला आ सकता है साथ ही गाइडलाइंस भी जारी हो सकती हैं.

राज्य शिक्षा सचिवों को भेजा था पत्र
स्कूल खोले जाने की प्रक्रिया पर केंद्र की तरफ से राज्यों के शिक्षा सचिवों को एक पत्र पिछले सप्ताह ही भेजा गया था. जिसमें बच्चों के अभिभावकों से फीडबैक लेने को कहा गया था और ये भी पता करने को कहा गया था कि, पैरेंट्स स्कूल कब से खोलना चाहते हैं. जिस पर कई राज्यों की तरफ से जवाब आ गया है. हरियाणा केरल, बिहार, असम और लद्दाख की तरफ से अगस्त में और राजस्थान, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश ने स्कूलों को सितंबर माह में खोलने की बात कही है. चूंकि, अगस्त माह शुरू हो चुका है और अभी सरकार इस फैसले पर विचार कर रही है. अन्य राज्यों की तरफ से भी जवाब आने बाकी हैं.

पैरेंट्स की राय
कई बच्चों के अभिभावक अभी अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजना चाहते. उनका मानना है कि, अभी ऐसी स्थिति नहीं है कि, हम अपने बच्चों को स्कूल भेजें क्योंकि, संक्रमण का खतरा टला नहीं है. बात अगर कोरोना मामलों की करें तो प्रतिदिन कोरोना की रफ्तार बढ़ती जा रही है और कोरोना मामले 20 लाख से ज्यादा हो चुके हैं.

ये भी पढ़ेंः- कोरोना से ज्यादा जानलेवा है ये वायरस, शरीर के अंग हो जाते हैं लाचार, जानिए लक्षण