Saturn

आज पृथ्वी के सबसे करीब शनि ग्रह (Saturn) आया है और इस नजारे को बिना टेलिस्कोप के जरिए भी देखा गया. आज दोपहर 11.30 यह छल्लेदार ग्रह धरती (Earth) के पास था. बता दें कि जिन देशों में रात का समय था उन देशों ने इस खूबसूरत दृश्य को बहुत साफ तौर पर देखा गया. ये घटनाक्रम करीबन एक महीने तक चलेगा और ऐसे में आपके पास इस दृश्य को देखने के कई सारे मौके आएंगे. लेकिन तब ये दोनों ग्रह आज जितने पास नहीं होंगे.

रात को दिखाई दिया ये अद्भुत नजारा

21 दिसंबर को दिखेगी आकाश में ये अनोखी खगोलीय घटना, 397 साल बाद गुरु और शनि  होंगे सबसे करीब | Great Conjunction of Jupiter and saturn on dec 21, after  397 years,

पठानी सामंत प्लेनेटेरियम के डिप्टी डायरेक्टर सुवेंदु पटनायक ने इस बारे में कहा कि भारतीय समय के अनुसार 11.30 बजे रात को शनि ग्रह और पृथ्वी एक-दूसरे के बेहद पास दिखाई दिए. भले ही भारत में इस वक्त दिन है लेकिन जिन देशों में रात है, वहां यह दृश्य साफ-साफ दिखाई दिया है. उन्होंने बताया कि पृथ्वी को सूरज का चक्कर लगाने में भले ही 365 दिन लगते हैं लेकिन शनि को चक्कर लगाने में केवल 29.5 साल लगते हैं.

खलोगशास्त्री सुवेंदु पटनायक ने आगे बताया कि अपनी कक्षा (Orbital Path) में घूमने के समय पृथ्वी और शनि साल में एक बार पास आते हैं. तो वहीं एक साल 13 दिन के अंतराल पर दोनों ग्रह बहुत करीब हो जाते हैं. इससे पूर्व जुलाई 2020 में पृथ्वी और शनि एक-दूसरे के सबसे करीब आए थे और अगली बार ऐसा 14 अगस्त 2022 को होने वाला है.

शनि दिखेगा चमकीला

800 साल या 400 साल पहले, कब इतने करीब आए थे गुरु-शनि? समझें पूरा गणित -  News AajTak

पटनायक ने ये भी बताया कि जब दोनों ग्रह एक-दूसरे के काफी पास होते हैं तब भी औसतन इनके बीच की दूरी 120 करोड़ किलोमीटर रह जाती है जो कि पृथ्वी और शनि की सबसे ज्यादा दूरी से 50 करोड़ किलोमीटर कम है. दोनों ग्रह 6 महीने बाद एक-दूसरे से सबसे ज्यादा दूरी पर भी हो जाएंगे. छोटे टेलिस्कोप की सहायता से लोग शनि के कुछ उपग्रहों को भी देख सकते हैं.
इस घटना को लोग अपनी नग्न आंखों से भी देख सकते हैं.

ये भी पढ़ें:-लखनऊ : लड़की ने चौराहे पर युवक की करी जबरदस्त पिटाई, मूकदर्शक बनी रही पुलिस, जानें मामला..