अयोध्या मसले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई पुनर्विचार याचिका

0
403

जमीअत उलेमा ए हिन्द ने सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को पुनर्विचार याचिका दाखिल की है। मुस्लिम पक्ष ने याचिका में पूर्व में दिए गए फैसले को लेकर कई सवाल उठाए हैं। कोर्ट में पूरे 212 पन्नों की याचिका दाखिल की गई है। ये याचिका कोर्ट के फैसले के 1 माह बाद दाखिल की गई है। हालांकि, इससे पहले सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने याचिका दाखिल न करने की बात कही थी। सुप्रीम कोर्ट के दिए गए फैसलों को लेकर मुस्लिम पक्ष शुरू से बंटा हुआ नजर आया है। ये भी पढ़े :अयोध्या फैसले पर संतो के साथ आया सुन्नी वक्फ बोर्ड, पूरी दुनिया को एक करने का दिया संदेश

बता दें कि कोर्ट के फैसले को लेकर मुस्लिम समुदाय दो गुटों में बंटता हुआ दिखा। एक ऐसा गुट, जिसने लगातार कोर्ट के इस फैसले का स्वागत किया है और दूसरा ऐसा गुट, जिसने लगातार इस फैसले का विरोध किया और हमेशा पुनर्विचार याचिका दाखिल करने की बात कहता रहा। बहरहाल, आज जमिएत उलेमा ए हिंद ने कोर्ट में 212 पन्नों की याचिका दाखिल कर दी है।

वहीं, अब कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल होने के बाद सभी की निगाहें सुप्रीम कोर्ट पर टिकी हुई है। अब ऐसे में अगर कोर्ट इस पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई करने का फैसला दे देता है तो ये पूरा मामला पुन: लटक सकता है। अब इस बात को बेहद बेसब्री से इंतजार किया जा रहा है कि आखिर कोर्ट इस पूरे मामले को लेकर पुनर्विचार याचिका को स्वीकार करता है या नहीं।

अब मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने भी
यहां पर हम आपको बताते चले कि अब मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड भी याचिका दाखिल करने जा रहा है। मिली जानकारी के मुताबिक, कोर्ट आने वाली 12 दिसंबर को कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगा। फिलहाल, तो कोर्ट याचिका दाखिल करने की तैयारी में है।

Read also :अयोध्या फैसले पर संतो के साथ आया सुन्नी वक्फ बोर्ड, पूरी दुनिया को एक करने का दिया संदेश

Read also :भगवान श्रीराम का विवाह होगा बेहद ही खास, बारात जाएगी अयोध्या से जनकपुर, फिर होगा गरीब कन्याओं का विवाह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here