Wednesday, January 20, 2021
Home देश मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा में बोले पीएम मोदी, वैक्सीन की पूरी तैयारी,...

मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा में बोले पीएम मोदी, वैक्सीन की पूरी तैयारी, मगर बचाव रहे जारी

नई दिल्‍ली। नई दिल्‍ली। देश में 16 जनवरी से होने वाले कोरोना वायरस वैक्‍सीनेशन से पहले सोमवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर बातचीत की। यह ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) द्वारा टीका की इमरजेंसी प्रयोग के मंजूरी के बाद प्रधानमत्री मोदी और मुख्यमंत्री के बीच पहली बातचीत थी। वर्चुअल के जरिए से हुई इस मीटिंग में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी शामिल हुए। मीटिंग के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोरोना संकट के वक्त सभी राज्यों ने एकजुटता से काम किया है। बता दें कि डीसीजीए ने दो वैक्सीन को अनुमति दी है जिनमें एक ऑक्सफोर्ड एस्ट्राज़ेनेका का कोविशील्ड वैक्सीन है। दूसरी भारत बायोटेक की कोवाक्सिन है। देश में अब तक कई दौर के ड्राई रन पूरे हो चुके हैं।

इसे भी पढ़ें:- बढ़ती सीमेंट और स्टील की कीमतों पर भड़के नितिन गडकरी, कह दी ये बड़ी बात

ज्ञात हो ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) की तरफ से पिछले दिनों देश में कोरोना वायरस की दो वैक्‍सीन को आपातकालीन प्रयोग की अनुमति दे दी गई है। इनमें सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्‍ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सिन शामिल हैं। साथ ही पूरे देश में वैक्‍सीनेशन का ड्राइ रन पूरा हो गया है। वैक्‍सीनेशन अभियान में 19 केंद्रीय मंत्रालय शामिल होंगे।

प्रमुख राज्‍यों की ये हैं तैयारी…
उत्‍तर प्रदेश
यूपी की योगी सरकार ने कोरोना वैक्‍सीन के टीकाकरण को लेकर तैयारियां पूरी कर ली हैं। उत्तर प्रदेश में 16 जनवरी से 852 सेंटर्स पर वैक्‍सीनेशन की शुरुआत की जाएगी। इसके साथ ही 3000 बूथ वाले लगभग 1,500 सेंटर्स की पहचान भी कर ली गई है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जय प्रताप सिंह ने बताया है कि हर सेंटर पर 25 कर्मचारी होंगे। उत्तर प्रदेश में लगभग 9 लाख हेल्थकेयर वर्कर्स को टीका लगाया जाएगा।

महाराष्‍ट्र
महाराष्‍ट्र ऐसा राज्‍य है जहां कोरोना संक्रमण के केस सबसे अधिक हैं। राज्‍य में 16 हजार से ज्यादा वॉलंटियर्स को वैक्‍सीनेशन के लिए ट्रेनिंग दी जा रही है। महाराष्‍ट्र में कोरोना का टीका के लिए 4200 सेंटर बनाए गए हैं। साथ ही 3,145 कोल्‍ड चेन केंद्र भी बनाये गए हैं। साढ़े सात लाख के लगभग हेल्‍थकेयर वर्कर्स टीकाकरण के लिए रजिस्टर करा चुके हैं।

दिल्‍ली
दिल्‍ली में कोरोना संक्रमण बहुत तेजी से फैला था। राज्‍य सरकार के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने वैक्‍सीनेशन की पूरी जानकारी देते हुए बताया है कि पहले चरण में 89 अस्पतालों में वैक्‍सीनेशन होगा। बता दें मंगलवार को टीका दिल्ली पहुंच जाएगी।

गुजरात
गुजरात में वैक्‍सीनेशन के पहले चरण में 4.33 लाख स्वास्थ्यकर्मी को वैक्सीन लगाई जाएगी। उनके बाद राज्‍य के 3.47 लाख फ्रंटलाइन वर्कर्स का वैक्‍सीनेशन किया जाएगा। राज्‍य में टीकाकरण के लिए 17,128 लोगों को परीक्षण दिया जाएगा। राज्‍य में एक करोड़ से अधिक टीका का डोज रखने की क्षमता है।

तमिलनाडु
तमिलनाडु कोरोना संक्रमण की चपेट में ज्यादा रहा है। पहले चरण में अब राज्‍य के 6 लाख स्वास्थ्यकर्मियों का वैक्‍सीनेशन होगा। प्रदेश में 47,206 सेंटर्स बनाए हैं। तमिलनाडु के 38 जिलों में 51 वॉक-इन सेंटर्स भी होंगे जहां ढाई करोड़ डोज का भंडारण किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें:- आप विधायक सोमनाथ भारती पर रायबरेली में फेंकी गई स्याही, भाजपा पर लगाया आरोप

Most Popular