Wednesday, December 8, 2021

PM MODI ने झांसी को दी करोड़ों की सौगात, डिफेंस कॉरिडोर से पांच हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

Must read

- Advertisement -

झांसी। विधानसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झांसी के लोगों को करोड़ों की सौगात दी। पीएम मोदी ने ‘राष्ट्र रक्षा समर्पण पर्व’ में हिस्सा लिया। इस अवसर पर पीएम मोदी ने कहा कि झांसी में राष्ट्र रक्षा समर्पण पर्व भारत में रक्षा के इतिहास में एक नए अध्याय की शुरुआत है। भारत डायनेमिक्स लिमिटेड के एक नए संयंत्र की आधारशिला झांसी में रखी गई है। पीएम मोदी ने कहा कि यूपी डिफेंस कॉरिडोर के झांसी नोड को नई पहचान देगा। कंपनी झांसी में 400 करोड़ रुपये के निवेश से इकाई की स्थापना करेगी। झांसी में एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल का निर्माण होगा, जिससे पांच हजार लोगों को प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा।

- Advertisement -

पीएम मोदी ने कहा कि मैं नमन करता हूं बुंदेलखंड के गौरव उन वीर आल्हा-ऊदल को जो आज भी मातृ-भूमि की रक्षा के लिए त्याग और बलिदान के प्रतीक हैं। मैं झांसी के सपूत मेजर ध्यानचंद का भी स्मरण करना चाहूंगा जिन्होंने भारत के खेल जगत् को दुनिया में पहचान दी। आज एक ओर हमारी सेनाओं की ताकत बढ़ रही है तो साथ ही भविष्य में देश की रक्षा के लिए सक्षम युवाओं के लिए जमीन भी तैयार हो रही है। मजबूत भारत दुनिया की जरूरत है। उन्होंने बताया कि 100 सैनिक स्कूल जिनकी शुरुआत होगी, ये आने वाले समय में देश का भविष्य ताकतवर हाथों में देने का काम करेंगे।

पीएम मोदी ने कहा कि आज डिजिटल कियोस्क लॉन्च किया गया है, अब सभी देशवासी वॉर हीरोज को मोबाइल ऐप के जरिए अपनी श्रद्धांजलि दे सकेंगे। लंबे समय से भारत को दुनिया के सबसे बड़े हथियार खरीदार देशों में गिना जाता रहा है। अब इसे बदलना होगा। आज देश का मंत्र है- मेक इन इंडिया, मेक फॉर वर्ल्ड. आज भारत अपनी सेनाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्रालय, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘आत्मनिर्भर भारत’ के संकल्प को पूरा करने के लिए लगातार मिशन मोड में काम कर रहा है। एक समय देश में 65 से 70 फीसदी रक्षा सामग्री बाहर से आयात हो रही थी। आज तस्वीर बदल गयी है और हम 65 फीसदी रक्षा सामान भारत से ही खरीद रहे हैं। आत्मनिर्भर भारत की पहचान दुनिया में बनी है।

यह भी पढ़ेंःकृषि कानून वापसी का CM YOGI  ने किया स्वागत, PM MODI के फैसले को बताया ऐतिहासिक

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article