अनलॉक 4.0: इस राज्य में 7 सितंबर से चालू होंगी पैसेंजर ट्रेन-बस सेवाएं, सीएम ने किया ऐलान

322

देश में कोरोना संकट का दौर अपने चरम पर है, जिसके चलते संपूर्ण भारत में लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है। वहीं पिछले छह महीने से लागू हुए लॉकडाउन का असर देश की अर्थव्यवस्था पर भी पड़ा है। कई सेक्टरों में मंदी की बाढ़ आई हुई है, बेरोजगारी का आलम चरम पर है। इतना ही नहीं देश की जीडीपी की हालत भी खस्ता है। हाल ही में आई जीडीपी रिपोर्ट में सबसे बड़ी ऐतिहासिक गिरावट देखी गई। ऐसे में देश की अर्थव्यवस्था को सुचारू रूप से पटरी पर लाने के लिए राज्य सरकारें और केंद्र सरकारें मिलकर कोई समाधान खोजने में जुटी है। चूंकि इससे पहले कभी इतने बुरे दौर से नहीं गुजरी जीडीपी। जितना कोरोना संकट में बुरा हाल देखने को मिला है। बहरहाल इन सबके बीच इस बीच तमिलनाडु सरकार ने राज्य में पैसेंजर ट्र्रेन व बसों के संचालन को अनुमति दे दी है। राज्य सरकार के इस फैसले से देश की अर्थव्यवस्था पर जोर पहुंचेगा। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने इस बात का एलान करते हुए इस संबंध में एक ट्वीट भी जारी किया है।

ये भी पढ़ें:-लॉकडाउन: सीएम योगी ने लगाई इन गतिविधियों पर रोक, 30 सितंबर तक रहेगी सख्त पाबंदी

सीएम पलानीस्वामी ने तमिल भाषा में ट्वीट करते हुए कहा, “7.9.2020 से तमिलनाडु के जिलों के बीच सार्वजनिक और निजी सार्वजनिक बसों को अनुमति दी जाएगी. यात्री रेल परिवहन को 7.9.2020 से राज्य के भीतर संचालित करने की अनुमति है.”

हालांकि ट्रेन और बसें चलाने की अनुमित दिए जाने के बाद सभी लोगों से खास अपील की गई है कि वे यात्रा के दौरान सरकार की तरफ से जारी गाइडलाइन का पालन करें। कोरोना संकट से सावधानी बरतना पहली प्राथमिकता है।

मालूम हो कि भारतीय रेलवे ने कोरोना संकट के चलते 25 मार्च से यात्री, मेल और एक्सप्रेस ट्रेन सेवाओं को निलंबित कर दिया था. हालांकि राज्य सरकारों के अनुरोध पर केंद्र ने फंसे हुए प्रवासी कामगारों, छात्रों, तीर्थयात्रियों और पर्यटकों के परिवहन के लिए रेल चलाने की अनुमति दे दी थी, 12 मई से 15 जोड़ी स्पेशल एयर कंडीशंड ट्रेनों की भी शुरुआत की और एक जून से 100 जोड़ी ट्रेनों का संचालन शुरू हुआ।

ये भी पढ़ें:-भारतीय रेलवे का बड़ा ऐलान, अब घर-घर करेगा सामान की डिलीवरी, जानें पूरा प्लान